सभी जिला स्तरीय एवं तहसील स्तरीय अधिकारियों से सम्बन्धित आईजीआरएस की समीक्षा

सभी जिला स्तरीय एवं तहसील स्तरीय अधिकारियों से सम्बन्धित आईजीआरएस की समीक्षा

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो उन्नाव।

उन्नाव कलेक्ट्रेट स्थित पन्नालाल सभागार में जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे द्वारा सभी जिला स्तरीय एवं तहसील स्तरीय अधिकारियों से सम्बन्धित आईजीआरएस की समीक्षा की गयी। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा जानकारी दी गयी

कि शासन एवं जनपद स्तर से आईजीआरएस/मुख्यमंत्री हेल्पलाइन/जिलाधिकारी जनता दर्शन में प्राप्त संदर्भों के संतुष्टिपरक निस्तारण पर मुख्यमंत्री द्वारा विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसलिए निस्तारण को लेकर जिन प्रकरणों में स्थलीय निरीक्षण किया जाए,

उनमें दो निष्पक्ष गवाहों के बयान, नाम, पता व मोबाइल नम्बर के साथ निस्तारण आख्या अपलोड की जाए। जिन प्रकरणों में आवेदक द्वारा असन्तोषजनक फीड बैक दिया गया हो, उन प्रकरणों में आवेदक से वार्ता कर एवं स्थलीय निरीक्षण कर उनके बयान सहित अन्तिम आख्या अपलोड की जाए।

किसी भी दशा में पुरानी आख्या को अपलोड कर निस्तारण न किया जाए। उन्होने समस्त अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि 10 बजे से 12 बजे तक जनता दर्शन के दौरान अपने-अपने कार्यालय में अनिवार्य रूप से बैठे तथा जन सामान्य की समस्याओं को गम्भीरतापूर्वक सुनें

और उनका समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। आईजीआरएस की गम्भीरता को लेकर जिलाधिकारी ने कहा कि सम्बन्धित अधिकारीगण स्वयं स्थलीय निरीक्षण कर शिकायतों का सन्तुष्टिपरक निस्तारण सुनिश्चित कराएं।

किसी भी दशा में आईजीआरएस पोर्टल पर सन्दर्भ डिफाल्टर न होने पाएं, इसके लिए आईजीआरएस पोर्टल को नियमित रूप से लाॅगिन किया जाए।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ऋषिराज, एएसपी शशि शेखर सिंह,

अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) विकास कुमार सिंह, जिला विकास अधिकारी संजय पाण्डेय, परियोजना निदेशक कमलेश कुमार सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी गण मौजूद रहे।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

राज्य

बगीचे में लटकता मिला युवक का शव, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा
प्रतिबंधित थर्माकोल प्लेट से भारी पिकअप प्रवर्तन दल ने पकड़ा
गोमती नदी में नहाते वक्त दो किशोर डूबे, हुई मौत पुलिस ने शव को बरामद कर परिजनों को सौंपा 
राज्य में पड़ रहे भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में 15 जून तक सभी स्कूल रहेंगे बंद, आदेश जारी
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन  ने राज्य में विधि- व्यवस्था  और अपराध -उग्रवाद नियंत्रण को लेकर वरीय  पदाधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक के साथ की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, दिए कई अहम निर्देश

साहित्य ज्योतिष

संजीव-नी।
संजीव-नीl
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।