जिलाधिकारी ने धान क्रय केंद्रों का किया औचक निरीक्षण

जिलाधिकारी ने धान क्रय केंद्रों का किया औचक निरीक्षण

लापरवाही पाए जाने पर संबंधित क्रय केंद्र प्रभारी के खिलाफ तय की जाएगी कठोर से कठोर कार्यवाही–जिलाधिकारी स्वतंत्र प्रभात अंबेडकरनगर खरीफ विपणन वर्ष 2020 -21 में मूल्य समर्थन योजना अंतर्गत जनपद में किसानों के धान क्रय करने हेतु संचालित क्रय केंद्रों पर शनिवार को जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र द्वारा औचक निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी पीसीएफ

लापरवाही पाए जाने पर संबंधित क्रय केंद्र प्रभारी के खिलाफ तय की जाएगी कठोर से कठोर  कार्यवाही–जिलाधिकारी

स्वतंत्र प्रभात

अंबेडकरनगर

खरीफ विपणन वर्ष 2020 -21 में मूल्य समर्थन योजना अंतर्गत जनपद में किसानों के धान क्रय करने हेतु संचालित क्रय केंद्रों पर शनिवार को जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र द्वारा औचक निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी पीसीएफ द्वारा संचालित क्रय केंद्र कटेहरी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मौके पर केंद्र प्रभारी दिवाकर वर्मा उपस्थित थे।

जिलाधिकारी ने धान क्रय केंद्रों का किया औचक निरीक्षण

कृषक गंगोत्री का 50 कुंटल धान तौल किया जा चुका था। कृषक विश्वनाथ का 28 कुंटल की धान की तौल की जा रही थी। अब तक कुल 41 सौ कुंतल धान की खरीद उक्त क्रय केंद्र पर किया गया था। जिसमें से 1800 कुंतल धान की उठान मिलर्स द्वारा अब तक किया गया है। निरीक्षण में धान ओसाई मशीन की स्थिति संतोषजनक नहीं पाई गई। जिलाधिकारी ने तत्काल प्रभाव से नई मशीन मंगवाने का निर्देश दिए। इसके उपरांत खाद एवं रसद विभाग द्वारा संचालित क्रय केंद्र कटेहरी का निरीक्षण किया गया।केंद्र प्रभारी मनोज गिरी मौके पर उपस्थित थे।

अन्नदाता जयराम गौड का 20 कुंतल धान तौल की प्रक्रिया चल रही थी।शानिवार को लगभग इस क्रय केंद्र पर 200 कुंतल धान की तौल किया गया था। जिसमें राजेंद्र प्रसाद सिंह का 74 कुंटल, राजेश वर्मा का 47 कुंटल ,मोहम्मद अली खान का 27 कुंतल, रामलाल का 32 कुंटल धान की तौल आज के दिन किया गया था।इस क्रय केंद्र पर लगभग अब तक 3200 कुंटल धान का क्रय किया जा चुका है। मौके पर ओसावन मशीन का मोटर खराब पाया गया। जिस पर जिलाधिकारी ने मौके पर उपस्थित मोटर मैकेनिक को तत्काल प्रभाव से मशीन का मोटर ठीक करने का निर्देश दिए।

जिलाधिकारी द्वारा यह भी निर्देश दिया गया कि धान क्रय में किसी भी किसान को कोई समस्या नहीं उत्पन्न होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि जांच उपरांत कहीं से कोई लापरवाही पाई जाती है तो संबंधित क्रय केंद्र प्रभारी के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई तय की जाएगी। निरीक्षण के दौरान मौके पर क्रय केंद्र के प्रभारी तथा कर्मचारी उपस्थित रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष