संजीव-नी। आकाश की अनंत ऊंचाई दो l

संजीव-नी। आकाश की अनंत ऊंचाई दो l

संजीव-नी।
आकाश की अनंत ऊंचाई दो l
 
इनकी छोटी-छोटी हथेलियों में,
पूरे ब्रह्मांड को समा जाने दो,
संपूर्ण संभावना के साथ 
पैदा हुआ नवजात,
एक नन्हा पंछी तो है।
आंखों में भविष्य के सपने 
जल की निश्छलता,
सूरज की किरणों की ताजगी,
चंद्रमा की स्निग्धतता, 
सागर की गहराई और 
गंभीरता लिए हुए 
इन मासूमों को 
आकाश की अनंत ऊंचाइयों दो, इनकी नन्ही छोटी आंखों में 
अपनी आकांक्षाएं, 
अपनी जिद,
अपना अहम मत लादिए, 
इन्हें गगनचुंबी ऊंचाइयों सी 
आशाओं के दीप जलाने दो, 
यह नन्हें ही ब्रह्म है, 
ब्रह्मांड हैं, और ईश्वर है, 
इन्हें न रोकिए ना
टोकिए ,
इनके छोटे-छोटे होठों में 
सच्चाई के गीत गाने दो, 
इनकी निर्दोष आंखों में 
कल का सूरज चंदा 
और सितारा चमकने दो, 
यह अबोध अभी 
नई उड़ान के आकांक्षी हैं, 
इनके नन्हे हाथों में 
पंख लगा कर 
पंछियों की तरह 
स्वतंत्र उड़ने दीजिए, 
खुले आकाश में 
किलकारी की गूंज के साथ 
नए स्वर देने की 
पूरी आजादी दीजिए, 
इन अबोध मासूमों को 
खुली हवा में पंछियों की 
तरह उड़ने दीजिए।
 
संजीव ठाकुर,

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

देश के 21 राज्यों से 150 शिक्षाविद कल पहुंचेंगे कृषि विश्वविद्यालय आयोजित  बैठक में लेंगे हिस्सा देश के 21 राज्यों से 150 शिक्षाविद कल पहुंचेंगे कृषि विश्वविद्यालय आयोजित  बैठक में लेंगे हिस्सा
मिल्कीपुर, अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय  में आज से तीन दिनों तक शिक्षाविदों का जमावड़ा रहेगा। इस...

अंतर्राष्ट्रीय

Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक
International Desk इटली की प्रधानमंत्री जार्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जून को 50वें जी-7 शिखर सम्मेलन...

Online Channel