खजनी पीएचसी में लगा एक दिवसीय पोर्टेबल डिजिटल एक्सरे मशीन से जांच का शिविर

पुराने खाँसी से पीड़ित दर्जनों मरीज कराए अपनी जांच 

खजनी पीएचसी में लगा एक दिवसीय पोर्टेबल डिजिटल एक्सरे मशीन से जांच का शिविर

ब्यूरो/शत्रुघ्न मणि त्रिपाठी
  
 गोरखपुर/खजनी  टीवी उन्मूलन के लिए वर्ष 2025 के लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसको लेकर स्वस्थ विभाग द्वारा संस्था  के सहयोग से तरह के प्रयास किया जा रहे हैं, इस संदर्भ में पूरे गोरखपुर जिले में टीवी उन्मूलन केंद्र एक अल्ट्रा पोर्टेबल एक्स-रे मशीन दी गई है, जिसके माध्ययम  कैम्प लगाकर लक्ष्य पूरा किया जा सके ,

इसी लक्ष्य के क्रम में खजनी प्राथमिक स्वावस्थ केंद्र पर  सीएमओ आशुतोष के निर्देशन में डीपीओ  डॉ  गणेश यादव सीएचआरआई संस्थापक सी 19 प्रोजेक्टर मशीन के अंतर्गत पोर्टेबल एक्सरे मशीन से  एक दिवसीय जांच का कैम्प लगाया गयाScreenshot_20240412_120040_Gallery

जिसके अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र से खांसी बलगम से पीड़ित मरीज जांच करवा कर सुविधा का लाभ उठाएं ,पीड़ित मरीज को जांच में माध्यम से टीवी मुक्त योजना से जोड़कर इलाज किया जाएगा । जिससे 2025 तक टीवी उन्मूलन लक्ष्य पूरा किया जा सके।

 गोरखपुर जनपद के दक्षिणांचल क्षत्र खजनी पीएचसी पर एक दिवसीय सी19 पोर्टेबल एक्सरे मशीन द्वारा जांच किया जा रहा है ।

पीएचसी प्रभारी चिकित्साधिकारी प्रदीप त्रिपाठी के नेतृत्व में CHRI संस्थापक सी 19 प्रोजेक्टर के अंतर्गत जिला सुपरवाइजर रामवेन्द्र श्रीवास्तव रेडियो ग्राफर स्याम मोहन शुक्ला ,कौसल्या देवी, पवन कुमार पांडेय द्वारा ग्रमीण क्षेत्र से आए दर्जनों  मरीजो का जांच  कैम्प लगाकर किया गया ।

उक्त कैम्प जांच शिविर में पीएचसी प्रभारी चिकित्साधिकारी प्रदीप त्रिपाठी ने बताया टीवी उन्मूलन लक्ष्य को लेकर लम्बे दिनों से खांसी बलगम से पीड़ित मरीज की जांच एक दिवसिय कैम्प के माध्यम किया गया है ,जिसके माध्यम से मरीजो का सुचारू रूप इलाज हो सकेगी, और टीवी का खात्मा होगा।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष