AI द्वारा भारत के चुनाव में वोटर्स को भटकाने तैयारी में - चीन

AI द्वारा भारत के चुनाव में वोटर्स को भटकाने तैयारी में - चीन

International 

माइक्रोसॉफ्ट की थ्रेट इंटेलिजेंस टीम ने कहा कि AI के जरिए वोटरों का पॉलिटिकल पार्टियों की तरफ झुकाव बदलने या उन्हें भटकाने की चीन कोशिश करेगा। वह चीन से सोशल मीडिया पर ऐसे कंटेंट पोस्ट करेगा, व पूरी कोशिश करेगा की चुनावों के दौरान जनता की राय चीन के पक्ष में हो सके। बॉर्डर विवाद के चलते वैसे भी भारत में पड़ोसी देश के तौर पर चीन की छवि अच्छी नहीं है। चीन पोस्ट के जरिए छवि बदलने की कोशिश करेगा।

भारत देश 543 सीटों पर चुनाव  होने हैं 
चुनाव आयोग झूठी और गलत सूचनाओं को लेकर पहले ही दिशानिर्देश और प्रोटोकाल जारी कर चुका है।भारत में लोकसभा की 543 सीटों के लिए चुनाव सात फेज में होगा। पहले फेज की वोटिंग 19 अप्रैल को और आखिरी फेज की वोटिंग 1 जून को होगी। 4 जून को नतीजे आने है। दक्षिण कोरिया में 10 अप्रैल को आम चुनाव होंगे जबकि अमेरिका में पांच नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होंगे। माइक्रोसाफ्ट की थ्रेट इंटेलिजेंस टीम के अनुसार- ''इस साल दुनियाभर में खासकर भारत, दक्षिण कोरिया और संयुक्त राज्य अमेरिका में मुख्य रूप से चुनाव होने हैं।

थ्रेट इंटेलिजेंस टीम के मुताबिक, चीन समर्थित साइबर ग्रुप्स नॉर्थ कोरिया के साथ मिलकर 2024 में होने वाले कई देशों के चुनावों को निशाना बनाने वाले हैं। इन चुनावों में चीन अपने हितों को ध्यान में रखते हुए AI का उपयोग कर ऐसी सामग्री का निर्माण और प्रसार करेगा जोकि उसे लाभ पहुंचाए। वह मतदाताओं का पार्टी विशेष की तरफ झुकाव बदलने के साथ-साथ उन्हें भटकाने की हर तरह पूरी कोशिश करेगा। वह सोशल मीडिया पर ऐसा कंटेंट प्रसारित करेगा जिससे चुनावों के दौरान जनता की राय चीनी हित की तरफ झुका सके। 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष