लाख डाउन में इतनी भीड़ लगता है लाक डाउन है ही नहीं।

लाख डाउन में इतनी भीड़ लगता है लाक डाउन है ही नहीं।

शाहजहांपुर। सरकार की सख्ती के बावजूद लॉक डाउन में इतनी भीड़ सभी दुकाने एक साथ खुल रही है कोई भी व्यक्ति घर से निकलते समय न तो मास्क लगा रहा है न ही सोशल डिस्टेंसिंग पालन कर रहा है इन सबको देखते हुए लगता है शाहजहांपुर लॉक डाउन में खत्म हो गया आपको बता दें

शाहजहांपुर।

सरकार की सख्ती के बावजूद लॉक डाउन में इतनी भीड़ सभी दुकाने एक साथ खुल रही है कोई भी व्यक्ति घर से निकलते समय न तो मास्क लगा रहा है न ही सोशल डिस्टेंसिंग पालन कर रहा है इन सबको देखते हुए लगता है शाहजहांपुर लॉक डाउन में खत्म हो गया आपको बता दें कि सदर थाना के पास कल निपुण हॉस्पिटल के सामने भयंकर तरीके से ट्रैफिक की वजह से भीड़ लगी हुई थी। प्रशासन को सूचना मिलने के बावजूद भी कोई पुलिसकर्मी वहां पर तत्काल नहीं पहुंचा अगर ऐसे ही सब कुछ चलता रहा तो शाहजहांपुर को रेड जोन में आने से कोई नहीं रोक सकता और प्रशासन को आगे बहुत बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है अतः प्रशासन ज्यादा से ज्यादा शक्ति बरतने का प्रयत्न करें तथा जो प्रशासन द्वारा दुकान खोलने की टाइमिंग दी गई है उस टाइमिंग के आधार पर ही दुकानों को खुलवाना चाहिए और टाइम से बंद कर आना चाहिए और साथ ही साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी कराना चाहिए।

लाख डाउन में इतनी भीड़ लगता है लाक डाउन है ही नहीं।

आपको बता दें  कि हरदोई बाईपास पर सभी सीमाओं से आ रहे हैं बड़े वाहन उनकी वजह से बाईपास चौराहे पर आज दोपहर के टाइम सबसे ज्यादा भीड़ देखने को मिली है प्रशासन से अनुरोध है कि सीमाओं से बड़े वाहनों का आवागमन बंद करें तथा बिना किसी काम तथा बिना मास्क के बाहर निकलने वालों व्यक्तियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करें।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'। सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'।
स्वंतत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एल्गार परिषद-माओवादी संबंध मामले में मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा को जमानत दे...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel