थाना रामचंद्र मिशन के क्षेत्र में भाभी की तहरीर बता कर हवालात में डाला।

थाना रामचंद्र मिशन के क्षेत्र में भाभी की तहरीर बता कर हवालात में डाला।

– थाना रामचंद्र मिशन क्षेत्र के सराय काईयां चौकी प्रभारी की करतूत महिला बोली मैंने नहीं दी कोई तहरीर। — पीड़ित एसपीओ और महिला ने पुलिस अधीक्षक से की शिकायत। शाहजहांपुर। जनपद के पुलिस अधीक्षक डॉ एस चिनप्पा के सख्त रवैया के बावजूद थाने के थानेदार शासन की मंशा अनुसार कार्य नहीं कर रहे हैं,थाना

– थाना रामचंद्र मिशन क्षेत्र के सराय काईयां चौकी प्रभारी की करतूत महिला बोली मैंने नहीं दी कोई तहरीर।

— पीड़ित एसपीओ और महिला ने पुलिस अधीक्षक से की शिकायत।

शाहजहांपुर।

जनपद के पुलिस अधीक्षक डॉ एस चिनप्पा के सख्त रवैया के बावजूद थाने के थानेदार शासन की मंशा अनुसार कार्य नहीं कर रहे हैं,थाना रामचंद्र मिशन पुलिस की दबंगई का मामला प्रकाश में आया है। यहां पुलिस ने होली और अन्य त्योहारों पर एसपीओ की भूमिका निभाने वाले एक युवक को उसकी भाभी की तहरीर बताकर हवालात में डाल दिया। उसके साथ मारपीट की। जब संभ्रांत नागरिकों ने विरोध किया तो बैकफुट पर आई पुलिस नहीं युवक को छोड़ दिया।

थाना रामचंद्र मिशन के क्षेत्र में भाभी की तहरीर बता कर हवालात में डाला।

युवक ने छूटने के बाद में महिला से बात की तो पता चला कि महिला की ओर से कोई भी तहरीर नहीं दी गई है। दोनों की इलाके में बदनामी हो गई। अब मामला जनपद के कद्दावर नेता के दरबार में पहुंचा है। इससे पुलिस में खलबली मच गई है। मामले को मैनेज करने के प्रयास किए जा रहे हैं। फिलहाल पीड़ित युवक और महिला ने पुलिस अधीक्षक से मामले की शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

थाना राम चंद्र मिशन क्षेत्र के मोहल्ला सराय का निवासी एसपीओ अजीत शर्मा ने पुलिस अधीक्षक को प्रेषित पत्र में बताया कि तीन मई को दोपहर 12 बजे सराय काईयां चौकी प्रभारी शैलेंद्र सिंह ने फोन करके उन्हें थाने पर बुलाया। जब अजीत थाने पहुंचे तो चौकी प्रभारी ने पहरा ड्यूटी पर तैनात सिपाही से कहा कि इसे हवालात में बंद कर दो। जब अजीत ने दरोगा से इसका कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि उसके मोहल्ले में रहने वाली एक महिला ने प्रार्थना पत्र दिया है कि वो उसके साथ छेड़छाड़ करता है।

एसपीओ के हवालात में बंद होने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। तमाम संभ्रात लोग थाने पहुंच गए। उन्होंने विरोध किया तो पुलिस बैकफुट पर आ गई और अजीत को देर रात छोड़ दिया गया। इसके बाद अजीत ने उक्त महिला के घर पर पहुंचकर जानकारी की तो पता लगा कि महिला ने कोई भी तहरीर पुलिस को नहीं दी थी। चौकी प्रभारी ने व्यक्तिगत कारणों के बस खुन्नस मानते हुए अजीत को हवालात में डाल दिया था।

मंगलवार की देर शाम मामला जिले के कद्दवार नेता के दरबार में पहुंचा। उनके प्रतिनिधि ने भी रामचंद्र मिशन पुलिस को कड़ी फटकार लगाई और दोबारा ऐसी गलती ना होने की हिदायत दी। उधर थाना रामचंद्र मिशन प्रभारी निरीक्षक दीपक शुक्ला अपने चौकी प्रभारी का बचाव करते नजर आए। उन्होंने तो सिरे से नकार दिया कि ऐसा कोई मामला हुआ ही नहीं था। 
अजीत सराय काईयां में जुआं खेल रहा था। जब दबिश दी गई थी तो वह भाग गया था। उससे पूछताछ की गई थी हवालात में डालने का मामला निराधार है। शैलेंद्र सिंह चौकी प्रभारी सराय काईयां थाना राम चंद्र मिशन शाहजहांपुर। 
मामला मेरे संज्ञान में नहीं है।

यदि कोई प्रार्थना पत्र पीड़ित के द्वारा दिया जाता है तो उसकी जांच करा कर कार्रवाई की जाएगी। प्रभारी निरीक्षक थाना रामचंद्र मिशन से जानकारी ली जा रही है। प्रवीन कुमार सीओ सिटी शाहजहांपुर।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष