मां कालिका मंदिर को जाने वाला जर्जर मार्ग को बनवाने के लिए क्षेत्रीय लोगों ने किया प्रसाशन से मांग

मां कालिका मंदिर को जाने वाला जर्जर मार्ग को बनवाने के लिए क्षेत्रीय लोगों ने किया प्रसाशन से मांग

मां कालिका मंदिर को जाने वाला जर्जर मार्ग को बनवाने के लिए क्षेत्रीय लोगों ने किया प्रसाशन से मांग


स्वतंत्र प्रभात 

रिपोर्ट जिंतेंद्र शुक्ल 

गोला विकास खण्ड के बारानगर गांव के सरयू नदी तट पर स्थित प्राचीन प्रसिद्ध माँ कालिका के मंदिर के लिए जाने वाले देईदिहा कालिका मंदिर का सम्पर्क मार्ग बनवारपार मठिया जगन्नाथपुर डाड़िया गांवो से होकर जाने वाला जगह जगह कई वर्षों से जर्जर पड़ा हुआ है। मार्ग पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं मार्ग में पड़ी गिट्टीया तीतर बितर हो गयी है। जबकि  इसी रास्ते सैकड़ों गांव के लोग माॅ कालिका मंदिर पर पूजा अर्चना कथा कढ़ाई चढ़ाने जाते हैं

साथ ही गांव के लोगों का एकमात्र यही रास्ता है, हजारों लोग रोज इस रास्ते से गुजरते हैं।क्षेत्र के देईडिहा गोला गोपालपुर बनवारपार सहित अन्य स्थानों पर पुजा अर्चना करने के साथ ही बाजार करने जाते हैं। बच्चे भी स्कूल कॉलेज पढ़ने इसी रास्ते होकर जाते हैं लोग इस सड़क पर बने गड्ढे से गिरकर घायल हो जाते हैं। सभी को बड़ी घटना का डर सताए रहता है।कहीं कोई बड़ी घटना न घट जाए।संबंधित विभाग बेखबर पड़ा हुआ है।

क्षेत्र के अभिमन्यु निषाद ,अमन यादव ,प्रतीक त्रिपाठी ,हरिचन्द्र साहनी, सचिन जायसवाल ,सुधीर सिद्धू ,गोल्डेन गौतम ,रतन राव ,रजनीश प्रजापति सहित आदि क्षेत्रीय लोगों ने शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराते हुए मांग किया है कि संबंधित विभाग इस मार्ग को अच्छी तरह से बनवाए जिससे आने जाने वाले श्रद्धालु तथा बच्चों की पढ़ाई करने में सुलभता प्राप्त हो और आवागमन सुचारू रूप से हो सके।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel