किसानों को नहीं मिल रहा फसलों का निर्धारित मूल्यःबंसल

किसानों को नहीं मिल रहा फसलों का निर्धारित मूल्यःबंसल

स्वतंत्र प्रभात अलीगढ़। किसानों को इन दिनों अपनी फसल की उपज बेचने के लिये काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। खरीफ की फसल की कटाई प्रारंभ हो चुकी है। नई मक्का और नया बाजरा मंडियों में आना शुरू हो चुका है इसके साथ साथ धान जोकि बहुतायत रूप से पैदा होता है। उसकी

स्वतंत्र प्रभात

अलीगढ़। किसानों को इन दिनों अपनी फसल की उपज बेचने के लिये काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। खरीफ की फसल की कटाई प्रारंभ हो चुकी है। नई मक्का और नया बाजरा मंडियों में आना शुरू हो चुका है इसके साथ साथ धान जोकि बहुतायत रूप से पैदा होता है। उसकी फसल की उपज भी अनाज मंडियों में पहुंचनी शुरू हो गई है। लेकिन किसानों की पीड़ा है कि उन्हें मक्का, बाजरा और धान के पर्याप्त मूल्य नहीं मिल रहे हैं।


मजबूरीवश किसानों को अपनी पैदावार बेचनी पड़ रही है जिससे उनकी फसलों की लागत भी नहीं निकल रही है। इसी समस्या को लेकर आज अखिल भारतीय कांग्रेस कमैटी के हरियाणा प्रदेश के प्रभारी विवेक बंसल ने अपने सहयोगियों के साथ खैर अनाज मंडी पहुंचे और वहां किसानों से वार्ता की। किसानों ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुये विवेक बंसल से कहा कि भाजपा सरकार के शासनकाल में किसानों का जितना उत्पीड़न हो रहा है उतना पहले कभी नहीं हुआ। विवेक बंसल ने उन्हें आश्वस्त करते हुये कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों की समस्याओं के प्रति जागरूक है और किसानों के हितों की रक्षा करने के लिये किसान बंधुओं के साथ कंधे से कंधा मिलकर संघर्ष करेगी।

इस अवसर पर उपस्थित किसान बंधुओं में साथ साथ विवेक बंसल के सहयोगियों में बिज्जी सिंघल, चो० वेद्वीर सिंह पूर्व प्रधान भमरौला, चो० अजीत सिंह, अटल चैधरी, हरिविलास खरे, अनुराग शर्मा, बनवारी चैहान, खालिद हाशमी, हेमंत सूर्यवंशी, सोनू गौतम, इमरान खान, जितेन्द्र गौतम, कमरुद्दीन खान, हिमांशु दिनेश, कामेश शर्मा, अर्जुन सिंह दिवाकर, पिंकू बघेल आदि थे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel