राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सरकार के सामने रखीं मांगे

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सरकार के सामने रखीं मांगे

स्वतंत्र प्रभात

मथुरा। पुरानी पेंशन बहाली, कैशलेस चिकित्सा सहित शिक्षक समस्याओं के समाधान के लिए राज्य सरकार के सभी शिक्षा मंत्रियों (बेसिक, माध्यमिक, उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा) तथा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी की उच्च स्तरीय कमेटी के सामने राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के प्रदेश प्रभारी, संगठन मंत्री महेंद्र कुमार के नेतृत्व में समाधान की मांग की।

गोवर्धन दास गुप्ता जिला मीडिया प्रमुख ब्लॉक अध्यक्ष राया ने जानकारी दी कि लखनऊ में बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार संदीप सिंह के आवास पर आयोजित शिक्षा संगठन विचार परिवार की बैठक में सम्मिलित होकर शैक्षिक समस्याओं एवं शैक्षिक उन्नयन के विषयों पर अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के संगठन मंत्री एवं प्रभारी महेंद्र कुमार के नेतृत्व में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के प्रतिनिधिमंडल ने अपनी समस्याओं को रखा।

शैक्षिक उन्नयन के विषयों, पुरानी पेंशन बहाली,धारा 21 की बहाली, बी. एल. ओ. जैसे गैर शैक्षणिक कार्यों से शिक्षकों को मुक्त रखने, स्ववित्त पोषित विद्यालयों के शिक्षकों की सेवा सुरक्षा नियमावली बनाने, निःशुल्क कैशलेस चिकित्सा सुविधा देने, प्रबंधकों की मनमानी पर अंकुश लगाने समेत प्राथमिक,माध्यमिक, संस्कृत विद्यालयों तथा महाविद्यालयों आदि की शैक्षिक समस्याओं पर चर्चा कर उनके त्वरित समाधान का आह्वान किया।

बैठक में उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री गण एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी भूपेन्द्र सिंह ने सभी शिक्षक समस्याओं के समयबद्ध समाधान करने का आश्वासन दिया। इस दौरान अंजना शर्मा जिला अध्यक्ष, इंद्रपाल सिंह, हरिओम गुप्ता, भगवान सिंह पचोरी आदि मौजूद रहे।



About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel