स्वतंत्र प्रभात आज की टॉप 5 ख़बरें तबलीगी जमात के सदस्य के निधन से शोक की लहर

तीन कोरोना पाजिटिव मिलने से दो दिन के लिए उन्नाव व पुरवा न्यायालय बंद स्वतंत्र प्रभात रामजी तिवारी उन्नाव। जिला एवं सत्र न्यायालय में कार्यरत लिपिक तथा चतुर्थश्रेणी कर्मचारी एवं पुरवा न्यायालय में अधिवक्ता को गतदिवस कोरोना पाजिटिव पाये जाने के बाद एहतियात के तौर पर 6 व 7 अगस्त को जनपद न्यायालय तथा न्यायालय

तीन कोरोना पाजिटिव मिलने से दो दिन के लिए उन्नाव व पुरवा न्यायालय बंद

स्वतंत्र प्रभात रामजी तिवारी उन्नाव। जिला एवं सत्र न्यायालय में कार्यरत लिपिक तथा चतुर्थश्रेणी कर्मचारी एवं पुरवा न्यायालय में अधिवक्ता को गतदिवस कोरोना पाजिटिव पाये जाने के बाद एहतियात के तौर पर 6 व 7 अगस्त को जनपद न्यायालय तथा न्यायालय सिविल जज पुरवा को बन्द कर पूर्णतः सेनेटाइज किया जायेगा। ज्ञात हो कि जनपद न्यायालय में कार्यरत तृतीय श्रेणी कर्मचारी लिपिक जिला जज तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कार्यालय वाहक न्यायालय अपर जिला जज को गत 23 जुलाई को हुये कोविड-19 टेस्ट में पॉजटिव पाया गया। इस अवधि में वह इस न्यायालय परीसर में कार्यरत विभिन्न अधिकारियों तथा कर्मचारियों के सम्पर्क में आये। वहीं न्यायालय सिविल जज पुरवा में एक अधिवक्ता कोविड-19 परीक्षण में पाजिटिव पाये गये। जिसके मद्देनजर संक्रमण से बचाव हेतु दोनो न्यायालय परिसरो को 6 व 7 अगस्त को बन्द कर पूर्णतः सेनेटाइज कराया जायेगा। केवल सफीपुर न्यायालय खुला रहेगा।

स्वतंत्र प्रभात आज की टॉप 5 ख़बरें तबलीगी जमात के सदस्य के निधन से शोक की लहर
स्वतंत्र प्रभात आज की टॉप 5 ख़बरें तबलीगी जमात के सदस्य के निधन से शोक की लहर

दबंगो ने युवक को गाड़ी से अगवा कर पीट-पीट किया मरणासन्न
ग्रामीणो की घेराबन्दी से दबोचे गये चार हमलावर

स्वतंत्र प्रभात आसिम अली सफीपुर-उन्नाव। ससुराल से वापस अपने घर लौट रहे युवक को कार सवार 4 लोगो के जबरन गाड़ी में बैठाकर पिटाई कर दी। ग्रामीणों की सूचना पुलिस ने घेराबंदी कर दबंगों को दबोच लिया। पीडित युवक की माता ने कोतवाली पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
कोतवाली क्षेत्र के जमाल नगर के समीप ससुराल से घर जा रहे बाइक सवार विकास 23 पुत्र सुभाष निवासी सिंहपुर कछार थाना बिठूर जिला कानपुर को कार सवार दबंगों ने बाइक के आगे कार लगाकर रोक लिया और जान से मारने की नियत से कार में डाल लिया। युवक के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने कार का पीछा किया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने क्षेत्र में घेराबंदी कर कार सहित दबंगों को दबोच लिया। पकड़े गये लोगों में ऊगू क्षेत्र के निवासी दबंग मंजेश कुमार पुत्र रमेश कुमार व अरुण कुमार पुत्र देवराज व शनि पुत्र मिथलेश व सुमित पुत्र अशोक राय शामिल हैं। बताया जाता है कि दबंगों ने युवक को बुरी तरह पीटा जिसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सफीपुर ले जाया गया। जहाँ डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रिफर कर दिया है। युवक की माता शिवदेवी ने पुलिस को तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की है। प्रभारी निरीक्षक हरिकेश रॉय ने बताया मुकदमा दर्ज कर लिया गया है छानबीन चल रही हैं।

एक पखवारा पूर्व वृद्ध की हुई हत्या के आरोपी अभीतक फरार
न्याय के लिए थाने के चक्कर लगा रहा मृतक का पुत्र

स्वतंत्र प्रभात आसिम अली उन्नाव। माखी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए जा रहे हैं। दो सप्ताह पहले परिवारिक बंटवारे को लेकर भाइयों के बीच हुई मारपीट की घटना में बड़े भाई की मौत हो गयी थी और बीच-बचाव के दौरान मंझला भाई गंभीर रूप से घायल हुआ था जिसमें अपनी इच्छानुसार पुलिस ने अलग ही कहानी गढ़ी थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस की कहानी में कितने छेद होते हैं, जनता के सामने उजागर हो गया था। मृतक के पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने चाचा व चाची के विरूद्ध हत्या का मुकद्दमा जरूर दर्ज कर लिया था लेकिन अभीतक पुलिस आरोपितों को पकड़ने में नाकाम साबित हो रही है। मृतक का पुत्र थाने का चक्कर लगा रहा है पुलिस दबाव बना रही है।
माखी थाना क्षेत्र के दीपागढ़ी गांव में 24 जुलाई 2020 की रात को रोहित सिंह का अपने छोटे भाई अश्वनी उर्फ सप्पू सिंह के साथ मकान के बंटवारे को लेकर विवाद होने लगा। नौबत मारपीट तक आ गयी और दोनों के बीच मारपीट होने लगी। बीच बचाव के दौरान मझला भाई धु्रव सिंह भी घायल हो गया था। समय से इलाज नहीं मिलने पर रोहित सिंह की मौत हो गयी। सुबह ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस स्वयं डाक्टर बन गयी और मामले को रफा-दफा करने के लिए मृतक को दमा का मरीज बताया कि धक्का लगने से गिर गया और मौत हो गयी लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने पुलिस की कहानी उजागर कर दी। मृतक के पीठ पर बीस चोटें व सिर पर धारदार औजार के चलते मौत का कारण निकलकर सामने आया था। मृतक के पुत्र अभिमन्यु सिंह ने घटना के तीसरे दिन चाचा अश्वनी उर्फ सप्पू सिंह चाची के विरूद्ध लिखित तहरीर दी। पुलिस ने दोनों के विरूद्ध मुकद्दमा तो दर्ज कर लिया लेकिन अभीतक आरोपी फरार हैं। मृतक के पुत्र ने बताया कि आरोपित चार दिन तक गांव में घूमता रहा लेकिन पुलिस ने पकड़ने का प्रयास नहीं किया और उसको भागने का मौका दिया। बुधवार को थाने पहुंचे मृतक के पुत्र ने बताया कि एफआईआर की कापी तक नहीं दी गई। इसके लिए थाने के चक्कर लगा रहे हैं फिर भी टहलाया जा रहा है और लगातार सुलह के लिए दबाव बना रही है। लोगों में चर्चा है कि जिले की पुलिस अपराधियों का सहयोग कर रही है और नवागत कप्तान इस ओर बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहे हैं।

दम्पति के साथ सरेराह मारपीट की घटना ठण्डे बस्ते में

स्वतंत्र प्रभात आसिम अली उन्नाव। माखी क्षेत्र के पवई गांव में सोमवार को राखी बंधाकर वापस घर लौट रहे दम्पति को दबंगो ने रास्ते में रोक मारपीट की जिससे दम्पति घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां पति की हालत गंभीर बनी हुई है। घायल के साले ने पुलिस को दी गई तहरीर में आरोप लगाया कि गांव के ही चार लोगों ने मामूली बात पर मारपीट की थी। जिसमें पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया था लेकिन अभीतक जांच चल रही है और यह जांच कब तक चलेगी, यह तो पुलिस ही बता सकती है।
माखी थाना क्षेत्र के गांव पवई निवासी ज्ञानप्रकाश ने तहरीर में आरोप लगाया था कि सोमवार को उसकी बहन, बहनोई शिवम बाजपेयी निवासी लखौरा हसनगंज के साथ राखी बांधने आयी थी। शाम को दोनो लोग बाइक से अपने घर जा रहे थे तभी रास्ते में गांव के ही निवासी रजेपाल महेंद्र अकिंत लाला आदि ने उनके साथ मारपीट की जिसमें दोनों घायल हो गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर कार्यवाही का आश्वासन दिया था लेकिन अभीतक न तो आरोपी पकड़े गये और न ही पीड़ितो के बयान लिये गये। पता नहीं कब तक पुलिस जांच करती रहेगी और आरोपितों को बचाने का काम करती रहेगी।

तबलीगी जमात के सदस्य के निधन से शोक की लहर

स्वतंत्र प्रभात आसिम अली बांगरमऊ-उन्नाव। क्षेत्र के कस्बा कुरसत निवासी तबलीगी जमात के अमीर मोहम्मद ताहिर का हार्टअटैक से निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे। उनके निधन की सूचना से तबलीगी जमात में शोक की लहर दौड़ गई। आज उन्हें कुरसत स्थित अबाई कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया गया। मालूम हो कि कस्बा कुरसत निवासी मोहम्मद ताहिर करीब 40 साल से तबलीगी जमात के जरिए दिन का काम कर रहे थे। बीते बुधवार को असर की नमाज के वक्त अचानक हार्ट अटैक के बाद उनका निधन हो गया। वह अपने पीछे तीन पुत्र और तीन पुत्रियों को रोते बिलखते छोड़ गए है। उनके निधन की सूचना से तबलीगी जमात के लोगों में शोक की लहर दौड़ गई। मौलाना फैसल बिलाल जामई ने कहा कि मोहम्मद ताहिर ने तबलीगी जमात के जरिये दीन की जो खिदमत की है उसे हमेशा याद रखा जाएगा। तबलीगी जमात के स्थानीय अमीर अयूब खान ने कहा कि मोहम्मद ताहिर के निधन से तबलीगी जमात को जो क्षति हुई है उससे पूरा होना मुश्किल है

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel