गरीब परिवार पर कहर ढ़ा रहे दबंग

उन्नाव स्वतंत्र प्रभात संवाददाता कोरोना महामारी के चलते जहां एक ओर सम्पूर्ण देश भुखमरी, गरीबी और बेरोजगारी से जूझ रहा है तो दूसरी ओर दबंग धनपशुओं द्वारा गरीबों असहायों पर अत्याचार का सिलसिला अभी भी जारी है और जब दबंगों से पीड़ित यह गरीब न्याय की आस में पुलिस व प्रशासन के पास जाते है


उन्नाव स्वतंत्र प्रभात संवाददाता

कोरोना महामारी के चलते जहां एक ओर सम्पूर्ण देश भुखमरी, गरीबी और बेरोजगारी से जूझ रहा है तो दूसरी ओर दबंग धनपशुओं द्वारा गरीबों असहायों पर अत्याचार का सिलसिला अभी भी जारी है और जब दबंगों से पीड़ित यह गरीब न्याय की आस में पुलिस व प्रशासन के पास जाते है

तो उन्हे वहां भी केवल आश्वासन की घुट्टी पिलाकर वापस कर दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला थाना अचलगंज का प्रकाश में आया है। जहां न्यायालय में वाद विचाराधीन होने के बावजूद दबंग गरीब परिवार को आयेदिन प्रताड़ित करते है। पीड़ित ने प्रशासन से न्याय की गुहार लगायी है


थाना अचलगंज अन्तर्गत कस्बा हड़हा के बक्शी टोला निवासी शब्बीर अहमद पुत्र गरीब उल्लाह ने बताया कि वह अत्यंत ही दुर्लभ एवं गरीब परिवार से है जिसके यहां कोई सहारा देने के लिए बेटा या भाई नहीं है, अपनी चार-चार जवान बेटियों के साथ किसी तरह गुजर-बसर कर रहा है किंतु कुछ दबंग लोग उसे पीड़ित करते रहते हैं ताकि वह घर द्वार बेचकर वहां से भाग जाये और वह लोग उसकी जमीन-जायदात हथियाने में कामयाब हो सकें,

यही नहीं उक्त दबंग लोग पीड़ित के घर पर चढ़कर मां-बहन की भद्दी-भद्दी गाली गलौज देते हैं। उसने बताया कि दबंग व्यक्ति के यहां एक भाई विकलांग है किंतु वह सब सगे चार भाई हैं, उस दबंग परिवार में विकलांग भाई की मदद से प्रशासन को खिला-पिला करके अपने पक्ष में कर मुझे प्रताड़ित करते रहते हैं उसने बताया कि दबंगों से एक विवाद काफी लंबे अरसे से चलता आ रहा है जो कि अभी न्यायालय में विचाराधीन है

किंतु दबंग लोगों ने उसका छज्जा जबरजस्ती तोड़ दिया हैं तथा उसे जान से मारने की धमकी देते हुए घर पर जेसीबी चलाने की धमकी भी दे रहे हैं। जिसमें प्रशासन भी उन दबंग लोगों का हौसला अफजाई करता रहता है। पीड़ित ने जान-माल की रक्षा तथा न्याय की गुहार लगायी है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel