क्षेत्र में अंधाधुंध चोरियों से लोग हलकान

क्षेत्र में अंधाधुंध चोरियों से  लोग हलकान

क्षेत्र में अंधाधुंध चोरियों से लोग हलकान काफी समय से जहानाबाद चोरियों समेत अन्य अपराधों से महफूज था लोग कुछ हद तक शांति और सुकून महसूस कर रहे थे परंतु हफ्ते 10 दिन में हुई आधा दर्जन चोरियों ने जहां लोगों की नींदे हराम कर दी हैं वही आइडियल पुलिसिंग की कलई भी खोल कर

क्षेत्र में अंधाधुंध चोरियों से  लोग हलकान


काफी समय से जहानाबाद चोरियों समेत अन्य अपराधों से महफूज था लोग कुछ हद तक शांति और सुकून महसूस कर रहे थे परंतु हफ्ते 10 दिन में हुई आधा दर्जन चोरियों ने जहां लोगों की नींदे हराम कर दी हैं वही आइडियल पुलिसिंग की कलई भी खोल कर रख दिया है जो कि यह बताने के लिए काफी है की अब चोर बदमाशों के दिल में पुलिस का भय नहीं रह गया है आम जनमानस अपने को सुरक्षित नहीं महसूस कर रहा है 22 अप्रैल से तो जैसे चोरियों का अंबार सा लग गया है 22 अप्रैल को दीघरूआ में तैनात स्वास्थ्य कर्मी विनोद कुमार की मोटरसाइकिल संख्या यूपी 78 डीएम 7698 स्टेट बैंक में जब वह अपने काम से गए थे तब उन्होंने  अपनी मोटरसाइकिल  बैंक के बाहर खड़ी की थी और जब बाहर निकले तो उनकी मोटरसाइकिल नदारद थी उन्होंने थाने में इसकी सूचना दी थी परंतु पुलिस अभी तक किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है इसी प्रकार कल दिनांक 5 मई को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जहानाबाद के स्वास्थ्य कर्मी हिमांशु सचान स्टेट बैंक गए हुए थे उन्होंने भी अपनी मोटरसाइकिल संख्या यूपी 78 सीडी 3432 जो कि उनके पिता राकेश कुमार सचान के नाम है और उक्त मोटरसाइकिल से हिमांशु सचान ड्यूटी करने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जहानाबाद आते हैं उक्त मोटरसाइकिल बैंक में जाते समय उन्होंने लॉक  करके स्टेट बैंक के बाहर खड़ी कर दी थी वह जब लौटे तब उनकी भी मोटरसाइकिल का कहीं अता पता नहीं था जबकि यूपी डायल हंड्रेड अक्सर स्टेट बैंक के आस पास ही मंडराती रहती है गेट पर  लंबी सी बंदूक लिए  एक गार्ड भी मुस्तैद रहता है कभी-कभी थाना पुलिस की  गाड़ी भी चक्कर लगाती रहती है लेकिन चोरों ने  इन सब चौकशी की कलई खोलकर रख दी है और बता दिया है की पुलिस डाल डाल तो हम पात पात, इस घटना की भी पुलिस में रिपोर्ट की गई परंतु अभी तक कोई अता पता नहीं है इसी प्रकार से कच्छेउरा के रहने वाले अंजू पुत्र छोटेलाल के वहां चोर आए और घर खाली कर ले गए इसकी भी रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई गई परंतु ढाक के वही तीन पात जांच चल रही है हद तो तब हो गई जब चोर 5 मई की रात्रि जहानाबाद के मलिकपुर मोहल्ले के दो घरों में छत के रास्ते आकर हाथ साफ कर गए एक-एक कर इकट्ठा की गई गरीब की संपत्ति खंगाल खंगाल कर उठा ले गए प्राप्त सूचना के अनुसार मीरा देवी पत्नी हरीश कुमार निवासी मलिकपुर ने बताया की हम लोग घर में ही  आगे के हिस्से में सोए थे पीछे के कमरे में अलमारी रखी थी  जिसमें कीमती सामान रखे थे  चोर रात को किसी वक्त आए और ताला तोड़ा नहीं बल्कि मास्टर चाबी से ताला खोलकर झुमका, वाले, चैन, पायल, अंगूठी व नगद लगभग 14 से 15 हजार मिलाकर लाखों रुपए की चोरी को अंजाम दे गए उसी रात को चोरों ने एक घर छोड़ कर के भैरों प्रसाद मिश्रा पुत्र दीनदयाल मिश्रा के यहां भी अपनी कला का प्रदर्शन करते हुए भारी मात्रा में कपड़े घरेलू सामान चांदी एवं नगद रुपए साफ कर ले गए स्थानीय लोगों ने बताया कि हमारे मोहल्ले में कभी भी पुलिस द्वारा पेट्रोलिंग नहीं की जाती है कुछ इसी प्रकार का माहौल पिछले वर्ष औंग थाना क्षेत्र का भी था जब दर्जनों चोरियां हो गई थी और खुलासा नहीं हो पाया था शायद आज तक वह चोरियां ठंडे बस्ते में ही पड़ी हुई है अब देखना यह है की जहानाबाद पुलिस भी औंग पुलिस की ही तरह इन चोरियों को ठंडे बस्ते में डाल देती है या किसी निष्कर्ष पर पहुंचती है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel