दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री ।

दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री ।

दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री । अनिल कुमार( रिपोर्टर ) मोढ भदोही। विश्व मे तेजी से फैल रहे कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिये आम जन मानस की जीवन रक्षा को दृष्टिगत रखते हुए देश के प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने देश मे 21 दिनी

दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री ।

अनिल कुमार( रिपोर्टर )

मोढ भदोही। विश्व मे तेजी से फैल रहे कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिये आम जन मानस की जीवन रक्षा को दृष्टिगत रखते हुए देश के प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने देश मे 21 दिनी लॉक डाउन की उद्द्घोषणा करते हुए देशवासियों से 21 दिन के लिये अपने अपने घरों में रहने की अपील करते हुए लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने की जिम्मेदारी प्रशासनिक अधिकारियों को दी थी। जिसके बाद से काम काज बन्द होने से हर तबके का आदमी आर्थिक समस्याओं से जूझ रहा है।

दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री ।

जिनमें भी रोजी रोटी का जुगाड़ करने के लिये सबसे अधिक समस्याओं का सामना करना मजदूर वर्ग को करना पड़ हा है ।ऐसी मुसीबत के समय मे पत्रकार भी जो की दिन-रात समाचार संकलन करके लोगों तक खबर पहुंचाते हैं वहीं अब गरीब मजलूमो को राहत सामग्री बांट कर मानवता को गौरवान्वित कर रहे है ।बता दें कि जिले के मोढ चौकी क्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न गांवों में दैनिक स्वतंत्र प्रभात अखबार के ब्यूरो चीफ उमेश सिंह के नेतृत्व में दैनिक स्वतंत्र प्रभात अखबार की टीम व कुछ समाज सेवी द्वारा गुरुवार को करीब 200 लोगों को खाने का पैकेट , साबून घर – घर जाकर वितरित किया गया ।

दैनिक अखबार स्वतंत्र प्रभात की टीम ने गरीबों को जगह -जगह बांटी राहत सामग्री ।

इस अवसर पर दैनिक स्वतंत्र प्रभात अखबार के पत्रकार गौरव पुरी, पत्रकार उमेश दुबे ,पत्रकार मनोज वर्मा ,पत्रकार सरस राजपूत, पत्रकार संतोष तिवारी ,पत्रकार बीपी सिंह ,व समाजसेवी शिव प्रकाश जयसवाल बीएन यादव राज नारायण यादव शंकर जायसवाल राम सूरत दिनेश जयसवाल आदि रहे ।और पत्रकारों ने महामारी के संक्रमण से बचाव के लिये लॉक डाउन के दौरान अपने – अपने घरों में रहने की भी अपील की।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'। सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'।
स्वंतत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एल्गार परिषद-माओवादी संबंध मामले में मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा को जमानत दे...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel