अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में वृद्धाश्रम गठित जनपद स्तरीय की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई संपन्न

अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में वृद्धाश्रम गठित जनपद स्तरीय की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई संपन्न

उरई :-(जालौन)अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह की अध्यक्षता में वृद्वाश्रम गठित जनपद स्तरीय समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुयी। उन्होने समिति के समस्त सदस्यों को निर्देशित किया कि वृद्वाश्रम का आकस्मिक निरीक्षण कर वहां पर पायी जाने वाली वास्तविक वस्तु स्थिति से लगातार अवगत कराये ताकि संबंधित को ससमय उचित दिशा निर्देश/कार्यवाही अमल

उरई :-(जालौन)अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार सिंह की अध्यक्षता में वृद्वाश्रम गठित जनपद स्तरीय समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुयी। उन्होने समिति के समस्त सदस्यों को निर्देशित किया कि वृद्वाश्रम का आकस्मिक निरीक्षण कर वहां पर पायी जाने वाली वास्तविक वस्तु स्थिति से लगातार अवगत कराये ताकि संबंधित को ससमय उचित दिशा निर्देश/कार्यवाही अमल में लायी जा सके।

बैठक में वृद्वाश्रमों के प्रशासन और प्रवर्धन का पुनर्विलोकन, वृद्वाश्रमों के उन्नयन तथा विकास के लिए समुचित कार्यक्रम हेतु कार्यक्रम का प्रस्ताव, वरिष्ठ नागरिकों के पुर्नवास से संबंधित कार्यक्रमों का समर्थन, वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण के क्षेत्र में कार्य कर रही विभिन्न एजेंसियों के बीच सहलग्नता सुनिश्चित करना, अधिनियम के अधीन जिले में स्थापित किए गए अधिकरणों के कृत्यों का पुनर्विलोकन करना, संस्थागत तथा गैर संस्थागत सेवाओं किए गए गुणवत्ता सुधारने के लिए आवश्यक सुझाव देना,

वृद्वाश्रम के भवन के किराये संबंधी धनराशि का आंकलन तथा वृद्वाश्रम के मानक के अनुसार संचालन/संवासियों को भोजन, वस्त्र/वृद्वाश्रम के साफ-सफाई का मानक निर्धारण करते हुये वृद्वाश्रम संचालन को निरन्तरता प्रदान करने आदि पर परिचर्चा हुयी। जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि भवन के लिये अधिकतम किराया रू0 90000 देने का शासना द्वारा प्राविधान किया गया हैं।बैठक में जिला समाज कल्याण अधिकारी लालजी यादव, समिति के सदस्य एवं विभागीय कर्मचारी मौजूद रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel