किसानों के घर जाकर गेहूॅ खरीदेंगी क्रय एजेन्सियां ज़िलाधिकारी

किसानों के घर जाकर गेहूॅ खरीदेंगी क्रय एजेन्सियां ज़िलाधिकारी

नसीर ख़ान ब्यूरो उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने जनपद के समस्त गेहॅू क्रय एजेन्सी के जिला प्रबन्धकों को निर्देश दिये कि रबी विपणन वर्ष 2020-21 में मूल समर्थन के अन्तर्गत जनपद में 66000 मी0टन गेहॅू क्रय का लक्ष्य रखा गया है। जो अभी तक 4368 किसानों से गेहॅू क्रय 19458.18 की लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ति

नसीर ख़ान ब्यूरो


उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने जनपद के समस्त गेहॅू क्रय एजेन्सी के जिला प्रबन्धकों को निर्देश दिये कि रबी विपणन वर्ष 2020-21 में मूल समर्थन के अन्तर्गत जनपद में 66000 मी0टन गेहॅू क्रय का लक्ष्य रखा गया है। जो अभी तक 4368 किसानों से गेहॅू क्रय 19458.18 की लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ति की गई है। उन्होंने बताया कि जनपद में 73 गेहॅू क्रय केन्द्र स्थापित है।


जिलाधिकारी ने बताया कि प्रदेश सरकार ने कृषकों को उनकी उपज को उनके घर-घर खरीद हेतु मोबाइल क्रय केन्द्रो के माध्यम से अथवा उपकेन्द्र खोलते हुये गेहॅूू खरीद में प्रगति लाये जाने हेतु आवश्यक सुविधाये मुहैया करायी है। जिलाधिकारी ने बताया कि ग्रामीण अंचल में गेहॅू के भाव अपेक्षाकृत कम है। अतएव आवश्यकतानुसार मोबाइल क्रय केन्द्रों के माध्यम से अथवा उपकेन्द्र खोलते हुये गेहॅू क्रय बढाया जायेगा। मोबाइल क्रय केन्द्र के सम्पर्क हेतु उनके मोबाइल नम्बर व भ्रमण कार्यक्रम का उचित प्रचार.प्रसार जिला विपणन अधिकारी के माध्यम से कराये जाने के निर्देश दिये गये है।

जिन क्रय क्रेन्द्रों पर गेहॅू की आवक नही हो रही है उनको ग्रामीण अंचल जहाॅ पर गेहूॅ की आवक अच्छी हो, स्थानान्तरित किया जायेगा अथवा उपकेन्द्र खोला जायेगा। राजस्व विभाग के कर्मचारी, लेखपाल, कृषि विभाग व मण्डी परिषद के कर्मचारी आदि का सहयोग लेकर कृषकों को सरकारी क्रय केन्द्रों पर गेहॅू विक्रय हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा। सहकारिता क्षेत्र की क्रय एजेन्सियों हेतु निर्धारित गेहूॅ क्रय लक्ष्य को एडीओ सहकारिता के मध्य भी विभाजित किया गया है एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों का गेहॅू क्रय में सक्रिय सहयोग लिया जाने के निर्देश दिये गये।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel