मौत का बेबी केयर- 7 मासूमों पर आग का कहर मौत

मौत का बेबी केयर- 7 मासूमों पर आग का कहर मौत

स्वतंत्र प्रभात।एसडी सेठी।

दिल्ली। दिल्ली के विवेक विहार  स्थित एक निजी  बेबी केयर सेंटर में लगी आग ने वहां एडमिट 12 न्यू बोर्न बेबी में से 7 नवजात बेबी को आग ने लीन लिया। बाकी किए गए रेस्क्यू में बचे तमाम मासूमों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार में शनिवार की आधी रात को  नवीन खिची एंड केयर न्यू बोर्न एंड चाइल्ड हॉस्पिटल की दूसरी मंजिल पर भयंकर आग लग गई।

आग लगने का कारण अस्पताल के सबसे नीचे भाग में ऑक्सीजन सिलिंडरों को भरने का काम किया जारहा था। सिलिंडर उडकर पहली मंजिल से टकरा कर विस्फोट हो गया। इससे वहां रखे पांच छह सिलिंडर ने भी आग पकड ली। देखते-देखते  आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। और दूसरी मंजिल जहां 12 मासूम बच्चे एडमिट थे ,उसे अपनी चपेट में ले लिया। आग की भयंकरता को देखते हुए मासूमों की तिमारपुर दारी में लगे सभी स्टाफ अपनी जान बचाने के लिए भाग खडे हुए। इस बीच मासूमों की चीखें आग में दफन हो गई। भगत सिंह एम्बुलेंस के प्रमुख  शंटी के मुताबिक हम लोग अस्पताल के पिछले भाग से जैसे तैसे चडे और मासूमों के वार्ड की तरफ दौडे।

Screenshot_20240526_112710_Samsung Internet

फटाफट हरकत वाले घायल  मासूमों को लेकर नीचे उतारा और अस्पताल लेकर भागे। बाकी 7 बेबी आग में बुरी तरह झुलस चुके थे। उनकी मौत हो चुकी थी।बाकी 5 बेबी का इलाज चल रहा है।इस बीच फायर की काॅल पर 12 फायर ब्रिगेड के टैंकर मौके पर पहुंचे। और आग बुझाने में जुट गए। दमकल कर्मियों ने आग में फंसे और लोगों को भी साथ वाली बिल्डिंग से बाहर निकाला गया। अस्पताल के सामने रहने वाले लोगो का कहना है कि यह अस्पताल अवैध  है। पुलिस की मिलीभगत से चल रहा है। 120 वर्ग गज में बने इस चार मंजिल इमारत के सबसे नीचे के भाग में आ ऑक्सीजन सिलिंडर को भरने का गैर कानूनी काम अर्से से किया जा रहा था। इस बारे में इलाकई लोगों ने पुलिस से लेकर एमसीडी समेत संबंधित विभागों में कर चुके है।

Screenshot_20240526_143228_Dainik Bhaskar

मगर आजतक किसी भी महकमें से जुडे तबके ने सुध तक नहीं ली। आज इसी गैरजिम्मेदार का नतीजा सामने है। लोगों ने बताया कि हादसा रात ढाई  बजे हुआ । अगर ये दिन के वक्लोत होता तो काफी ज्योत्सना नुकसान हो सकता था। दरअसल दिन के वक्त अस्पताल के सामने वाली सडक  पर जाम और भीडभाड रहती है । ऐसे में दमकल गाडियां पर निकल पाती। आरोप है कि साल 2021 में भी नवीन खिची एंड केयर -न्यू बोर्न एंड चाइल्ड हास्पीटल, विवेक विहार फेज-1 के खिलाफ आईपीसी की धारा 325,506,34 और किशोर न्याय अधिनियम (बच्चो की सुरक्षा और देखभाल) की धारा 75 के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी।

मालिक नवीन खिची के खिलाफ नर्सिंग होमगार्ड रजिस्ट्रेशन नहीं कराने और केस हिस्ट्री में हेराफेरी करने का आरोप था।ये एफआईआर हाथरस के एक दंपति ने दर्ज कराई थी।जिन्होंने अपने नवजात बच्चे को इस अस्पताल में भर्ती कराया था। अस्पताल में दम्पत्ति के बच्चे का बांटा हाथ टूट गया था। जब दम्पति ने अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज में देखा कि एक नर्स उनके मासूम को पीट रही थी,जिससे उसकी हड्डी टूट ग ई।जब इसकी शिकायत मालिक नवीन खिची से सेठी तो कथित तौर पर उन्होंने दम्पति को धमकी दी थी।

Screenshot_20240526_142039_Dainik Bhaskar

इसके अतिरिक्त सील 2021 में जांच के दौरान यह भी पाया गया कि दिल्ली नर्सिंग होम अधिनियम  के तहत इसका  रजिस्ट्रेशन नहीं था। लेकिन मिलीभगत और जुर्माना भरने की कवायदनके बाद मामले का निपटारा कर दिया गया था। अब दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने इस भीषण हादसे पर दुख जताते हुए घटना की जांच के आदेश दिए है।इसके अलावा दिल्ली के एलजी वीके सक्सेनासमेत सांसद मनोज तिवारी ने  भी मौके पर पहुंचकर दिल्ली सरकाल को कटघरे में खडा कर दिया है। बहर।आह अस्पताल का मालिक ,मीरा बाग,पश्चिम विहार निवासी फरार हो गया है। दिल्ली पुलिस की टीमें उसकी तलाश में जुटी हुई है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक
International Desk इटली की प्रधानमंत्री जार्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जून को 50वें जी-7 शिखर सम्मेलन...

Online Channel