2 वर्ष बीत जाने के बाद भी अमृत सरोवर निर्माण में 81 लाख 37 हजार रुपए खर्च फिर भी अधूरे पड़े अमृत सरोवर अखिर क्यों  ?

इस योजना का शुभारंभ 24 अप्रैल 2022 को स्वतंत्रता के 75 वें  वर्ष पर भारत की आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में किया गया था

2 वर्ष बीत जाने के बाद भी अमृत सरोवर निर्माण में 81 लाख 37 हजार रुपए खर्च फिर भी अधूरे पड़े अमृत सरोवर अखिर क्यों  ?

अमृत सरोवर निर्माण में जमकर भ्रष्टाचार व धनों का दुरूपयोग किया गया है जों स्थलीय सत्यापन में सारे राज खुल कर सामने आ जाएंगे

गोंडा। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के जीरो टॉलरेंस नीति के तहत भ्रष्टाचार मुक्त होने के लगातार किए जा रहे दावे वह दूसरी तरफ जनपद गोंडा के विकासखंड रुपईडीह में हुए अमृत सरोवर निर्माण भी चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट। दिन-प्रतिदिन पानी के संकट से जूझ रहे किसानों, ग्रामीणों तथा बेजुबान जानवरो, पक्षियों के लिए सरकार ने एक महत्वाकांक्षी योजना अमृत सरोवर योजना की शुरुआत की थी । भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ने से अमृत सरोवर सूखे पड़े हुए हैं ।अमृत सरोवर योजना  जल संरक्षण और सूखे जैसी भयावह स्थिति से निपटने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा लाई गई थी ।
 
इस योजना का शुभारंभ 24अप्रैल 2022 को स्वतंत्रता के 75वें वर्ष पर भारत की आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप किया गया।इससे गर्मी के दिनों में होने वाले भूजल की कमी को काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकेगा। लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों की उदासीनता के कारण भारत सरकार की महात्वाकांक्षी ड्रीम प्रोजेक्ट योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई। विकासखंड रूपईडीह में भारत सरकार की ड्रीम प्रोजेक्ट योजना अमृत सरोवर के निर्माण के लिए106ग्राम पंचायतों के सापेक्ष 25 ग्राम पंचायतों को चयनित किया गया लेकिन दो वर्ष बीत जाने के बाद भी अमृत सरोवर पूर्ण नहीं हो सके ।
 
  अमृत सरोवर के निर्माण में 81लाख 37हजार रूपये खर्च कर दिए गए  लेकिन धरातल पर कुछ और ही नजारा दिखाई दे रहा है, अमृत सरोवर निर्माण में जमकर भ्रष्टाचार व धनों का दुरूपयोग किया गया है जों स्थलीय सत्यापन में सारे राज खुल कर सामने आ जाएंगे। इस सम्बन्ध में खंड विकास अधिकारी मृत्युंजय यादव ने बताया कि सूखे पड़े सरोवर में पानी भरवारा जाएगा अधूरी पड़ी अमृत सरोवर के बारे में सवाल पर फोन काट दिए।
 
इन ग्राम पंचायतों में होने थे अमृत सरोवर निर्माण
 
अमृत सरोवर के निर्माण कराया जाने के लिए ग्राम पंचायत पचरन,कोचवा,नौशहरा,भुरकुडा,पिपराभोधर,केवल पुर,छिटनापुर,पचुरखी मनोहर जोत, भुडकुडी, कौड़ियां, पिपरा चौबे,नरायण पुर माफी,रंजीत नगर, रज्जनपुर,पूरे पाठक,कुरासी,इटहियानवी जोत, फरेंदा शुक्ल,महादेवा कला,रूपईडीह, तेलिया कोट पिरवरतारा  ,कुरसहा,देवारिया कला,खनवापुर में निमार्ण होने थे लेकिन पच्चीस ग्राम पंचायतों के सापेक्ष मात्र तीन ग्राम पंचायत कुरसहा, देवारिया कला तथा खनवापुर पूर्ण होने का दावा किया जा रहा हैं।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

देश के 21 राज्यों से 150 शिक्षाविद कल पहुंचेंगे कृषि विश्वविद्यालय आयोजित  बैठक में लेंगे हिस्सा देश के 21 राज्यों से 150 शिक्षाविद कल पहुंचेंगे कृषि विश्वविद्यालय आयोजित  बैठक में लेंगे हिस्सा
मिल्कीपुर, अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय  में आज से तीन दिनों तक शिक्षाविदों का जमावड़ा रहेगा। इस...

अंतर्राष्ट्रीय

Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक
International Desk इटली की प्रधानमंत्री जार्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जून को 50वें जी-7 शिखर सम्मेलन...

Online Channel