आतंकवादियो , देशद्रोहीयो को मानव अधिकारों के नाम पर सुविधा लेकिन एक संत को जीवन रक्षा के लिए कोई राहत नहीं-अधिवक्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय

आतंकवादियो , देशद्रोहीयो को मानव अधिकारों के नाम पर सुविधा लेकिन एक संत को जीवन रक्षा के लिए कोई राहत नहीं-अधिवक्ता अश्विनी कुमार उपाध्याय

स्वतंत्र प्रभात 
विशेष संवाददाता  नई दिल्ली 


जिन्होंने पूरी जिंदगी स्वदेशी को आगे बढ़ाया है उनको फोर्स किया जा रहा है कि तुम विदेशी इलाज करवाओ खूंखार अपराधियों को मानवता के आधार पर बिरयानी खाने का इबादत करने का अपनी पसंदीदा कपड़ा पहनने का त्यौहार मनाने का छुट्टी मिलती है जेल से पैरोल पर बड़े-बड़े माफिया को शादी विवाह में जाने के लिए माता-पिता से मिलने के लिए पत्नी से मिलने के लिए और बच्चा पैदा करने के लिए पैरोल पर जमानत मिलती है समान अपराधियों को नहीं बड़े-बड़े माफिया को आतंकवादियों को जिन्होंने करोड़ का हेरा फेरी किया ऐसे देश सफेद पोस्ट अपराधियों को नशा तस्करों को किन-किन को जमानत मिल जाती है l

लेकिन आसाराम बापू को आयुर्वेद प्राकृतिक चिकित्सा आयोग चिकित्सा से अपना इलाज करवाने के लिए छुट्टी नहीं मिल रही है यह कितने आश्चर्य की बात है कितने सफेद पोश नेता है सजाया हफ्ता है दोषी हैं और बाहर घूम रहे हैं पार्टी बनाकर पार्टी के अध्यक्ष बनाकर बैठे हुए हैं पार्टी चल रहे हैं चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन वहीं आसाराम जिन्होंने पूरी जिंदगी आदिवासियों के अभाव ग्रस्तों के क्षेत्र में जा जाकर धर्मांतरण को रोक घुसपैठ को रोका धर्मांतरित हो गए थे उनके घर वापसी कराई उन संत को यह दंड मिल रहा है अरे कम से कम उतनी राहत दे देते जितनी लालू प्रसाद यादव को मिली हुई है जितनी अजमल  कसाब को मिली हुई थी 

घूसखोर नेताओं को करशाहों को कमीशन खोरी को दलालों को नशा तस्करों को मानव तस्करों को आतंकवादियों को अलगाववादियों को जिहादियों को पत्थर बाजों को मवादो को नक्सलियों को पैरोल पर जमानत मिल सकती है जो भारत के साथ गद्दारी करते हैं जासूसी करते हैं देशद्रोही करते हैं उनको भी अपनी पसंद का भोजन करने की परिवार से मिलने की त्यौहार मनाने की हर चीज के लिए मानवता के नाम पर छुट्टी मिलती है l

जेल से लेकिन आसाराम बापू ने क्या इतना बड़ा गुनाह कर दिया है कि बेटे से भी नहीं मिलने दिया जाएगा परिजनों से नहीं मिलने दिया जाएगा और बाकी तो छोड़ो इलाज भी नहीं करने दिया जाएगा उनके आयुर्वेद चिकित्सा के हिसाब से इलाज के लिए कहेंगे कि विदेशी इलाज कराओ एलोपैथी में स्वदेशी इलाज मत करो जिन्होंने पूरी जिंदगी स्वदेशी को आगे बढ़ाया उनको फोर्स किया जा रहा है कि तुम विदेशी इलाज करवाओ मैं जज साहब से हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि क्या आसाराम जी अजमल कसाब से ज्यादा अपराध किया है क्या एक से बढ़कर एक घोटाले हुए किसी नेता को तो आज तक नहीं रोक कोर्ट ने, अपने परिवार से मिलने के लिए एक संत जो बायो वृद्धि हो चुके हैं 

शरीर के स्वस्थ हैं और केवल इतनी मांग कर रहे हैं कि हमको आयुर्वेद से प्राकृतिक चिकित्सा से योग चिकित्सा से इलाज करने दो इन अवस्था में कोई भारत छोड़कर कहीं भाग नहीं जाएंगे ऐसा भी नहीं है कि वह किसी की हत्या कर देंगे कम से कम मानवता के आधार पर आसाराम बापू को बेल देनी चाहिए और आसाराम बापूके पुराने कार्यों को देख लीजिए उन्होंने लाखों लोगों की घर वापसी कराई है उनका धर्मांतरण होने से बचाया है आप दलित और आदिवासियों के बीच जाकर देखिए उनकी बात सुनिए तो आपको पता चलेगा कि उन्होंने क्या-क्या काम किया हुआ था

 मैं हाथ जोड़ता हूं थोड़ी सी उनके ऊपर भी दया कीजिए आतंकवादियों के ऊपर मानवता की दुहाई देकर काम हो रहा है तो आसाराम को तो वास्तव में मानो अधिकार है उनका काम से कम इलाज तो करने के लिए बेल दे दीजिए l

 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष