त्रिजटा स्नान कर सभी कल्पवासी अपने गन्तव्य को वापस,।

 हर चौराहे/तिराहे पर मेला पुलिस मुस्तैद,।

 त्रिजटा स्नान कर सभी कल्पवासी अपने गन्तव्य को वापस,।

स्वतंत्र प्रभात
ब्यूरो प्रयागराज।
प्रयाग की नगरी में संगम के तट पर आस्था व पुण्य के लिये तम्बुओं के शहर मे माघ मास महीने में लाखों साधु सन्त व कल्पवासी पूजन-भजन के साथ मां गंगा की गोद में कल्पवास करते हैं। आज त्रिजटा स्नान पर्व, जो साधु-संतों, कल्पवासियों के लिये महत्वपूर्ण होता है, पर हजारों कल्पवासियों और साधु-संतों ने आस्था की डुबकी लगाई। जो साधु सन्त व कल्पवासी माघी पूर्णिमा स्नान के बाद दिशा शूल मानते है और कल्पवास के लिये रुके रहते है वह आज के दिन त्रिजटा स्नान कर मेला क्षेत्र से अपने गन्तव्य को वापस लौटते है।
 
त्रिजटा स्नान के अवसर पर पुलिस उप महानिरीक्षक/प्रभारी माघ मेला डा0 राजीव नारायण मिश्र IPS के द्वारा मेला क्षेत्र मे सुगम आवागमन, सुरक्षित स्नान एवं साधु-संतों,कल्पवासियों के वापसी हेतु समुचित पुलिस प्रबन्ध किये गये। मेला क्षेत्र के आने जाने वाले मार्गों, चौराहे/तिराहे,पाण्टून पुलों तथा कल्पवासी क्षेत्रों मे पुलिस के जवानो द्वारा विशेष सतर्कता बरती गई।
 
कल्पवासियों के मेला क्षेत्र से वापसी हेतु पूर्व से जारी यातायात प्रबन्ध के अनुसार ही समस्त पुलिस बल द्वारा अनुपालन सुनिश्चित कराया गया। अधिकारियों द्वारा मेला क्षेत्र का भ्रमण करते हुये अपनें गंतव्य को वापस जा रहे साधु-सन्तों,कल्पवासियों का कुशलक्षेम लेते हुये उनका आशीर्वाद प्राप्त किया गया। इस दौरान साधु-सन्तों,कल्पवासियों ने मेला पुलिस के कार्यों की प्रशंसा करते हुये आभार व्यक्त किया।
 
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel