दबंग आशा के परिवार ने उप स्वास्थ्य केंद्र जीतपुर के अधिकारी से की मारपीट और गालियां

दबंग आशा के परिवार ने उप स्वास्थ्य केंद्र जीतपुर के अधिकारी से की मारपीट और गालियां

 

स्वास्थ केंद्र गैसड़ी के उप स्वास्थ्य केंद्र पर आशा के द्वारा जबरन प्राइवेट अस्पताल प्रसव को संस्थागत के लिये बनाया दबाव

गलत इंट्री न करने को लेकर मारपीट से अस्पताल कर्मियों में आक्रोश 

थाना तुलसीपुर में दर्जनों एनएम व स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लामबंद हो की गई कार्यवाही की मांग

 

बलरामपुर

जहां सरकार सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों के इलाज व्यवस्थाओं का लाभ आम जनता को देने के लिए तमाम सुविधा प्रदान करती है जिसका लाभ जनता को मिल सके लेकिन सरकारी अस्पताल के लाभ की बात सिर्फ कागजी साबित हो रही जंहा अस्पताल कर्मचारियों व आशाओं के द्वारा कमीशन के चक्कर में मरीज को सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में न ला कर प्राइवेट नर्सिंग होम में ले जाने और इलाज करवाने की प्रथा पर लगातार कार्य किया जाता देखा जा है जिसके चलते अक्सर मरीजो की मौत तक हो जाती है लेकिन प्राइवेट नर्सिंग होमो में मरीजो के दिखवाने का सिसला जारी है ।

इसी क्रम में बात करते हैं जनपद बलरामपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गैसड़ी के अंतर्गत आने वाले उप स्वास्थ्य केंद्र जीतपुर की जहां पर दबंग आशा भानुमति के द्वारा केंद्र प्रभारी जीतपुर से अभद्रता व मारपीट करने का मामला प्रकाश में आया है जिसमे आशा उसका पति व पुत्री ने जमकर अस्पताल में तांडव मचाया । आशा ग्राम खगईजोत अपने बेटे के साथ अस्पताल में आती है और प्राइवेट अस्पताल में हुए प्रसव के मामले को संस्थागत दिखाने के लिए वहां उपस्थित केंद्र प्रभारी मीरा गौतम उप स्वास्थ केंद्र जीतपुर जो कि एक मीटिंग में व्यवस्त थी

उनसे प्राइवेट प्रसव जो प्राइवेट नर्सिंग होम में करवाया गया था के मामले को संस्थागत सरकारी दिखाने के लिए अस्पताल की अधिकारी मीरा गौतम से जबरन रजिस्टर में इंट्री करने का दवाव बनाती हुई नजर आती जिसपर जब केंद्र प्रभारी ने इंट्री करने व सरकारी केंद्र में प्रसव लिखने को मना कर देती है जिस पर दबंग आशा के द्वारा जातिसूचक अभद्र भाषा का प्रयोग कर गालियां दी जाती है और अपने पति को बुला लेती है जिसपर उसके पति द्वारा अस्पताल में पहुच केंद्र प्रभारी से गाली गलौज कर उसे लात घूसों से मारा जाता है और उसे प्लग पर पटक उसके सीने पर चढ़ मार पीट करते हुए जान से मारने का प्रयास करते हुए कैची से वार किया जाता है ।और मारपीट किया जाता है जिसकी विडियो अन्य कर्मचारी के द्वारा बनाया जाता जिसे छीन कर मोबाइल से डीलिट कर दिया गया है । इस घटना से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के तमाम एनएम और सीएचओ में आक्रोश देखा जा रहा है ।

 इसको लेकर तमाम सीएचसी पीएचसी पुरुष व महिला कर्मचारियों ने थाना तुलसीपुर पहुंचकर इस मामले की रिपोर्ट लिखने के लिए थाना प्रभारी तुलसीपुर को प्रार्थना पत्र दिया है और आशा भानुमति, राजकुमार यादव पुत्री निर्मला यादव के ऊपर सरकारी कार्य मे बाधा ,मारपीट ,व अभद्रतापूर्ण बर्ताव के जान से मारने के मामले में विधिक कार्यवाही करने की मांग की है ।

इस सम्बंध में सीएचसी अधीक्षक से पक्ष जाना गया तो उनका कहना कि शिकायत हुई है मेडिकल के आधार पर कार्यवाही होगी । अब यह देखना होगा कि थाना तुलसीपुर पुलिस आशा व एनएम प्रकरण में कार्यवाही करती है य फिर मामला सुलह समझौता करवाया जाता है ।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel