मृदा क्षरण पर जाहिर की गयी चिंता, बचाव के बताये गये उपाय

उदित नारायण पीजी कालेज में आयोजित हुई संगोष्ठी

मृदा क्षरण पर जाहिर की गयी चिंता, बचाव के बताये गये उपाय

वक्ताओं ने बच्चों के सवालों का दिया जबाब 

राघवेंद्र मल्ल 

पडरौना, कुशीनगर ।अंतराष्ट्रीय मृदा दिवस पर उदित नारायण पीजी कालेज में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी में छात्र छात्राओं को मृदा के महत्व को रेखांकित करते हुए उसके संरक्षण पर बल दिया।

प्राचार्य प्रोफेसर ममता मणि त्रिपाठी ने संगोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए भविष्य में होने वाली संकट की तरफ ध्यान आकृष्ट कराया। साथ ही इससे उबरने के उपायों पर प्रकाश डाला। छात्र छात्राओं को मृदा के महत्व को रेखांकित करते हुए उसके संरक्षण पर बल दिया। मुख्य अतिथि प्रोफेसर वी के श्रीवास्तव पूर्व भूगोल विभागाध्यक्ष ने मृदा क्षरण पर चिंता जाहिर की। संचालन कर रहे संयोजक भूगोल के विभागाध्यक्ष डॉ संजय कुमार सिंह ने बच्चों को उनके सवालों का तर्कसंगत जबाब दिया। इस अवसर पर प्रोफेसर श्रीवास्तव ने मृदा संकट के कारणों पर प्रकाश डालते हुए इसके संरक्षण के उपायों पर प्रकाश डाला। साथ ही उन्होंने मृदा के महत्व पर प्रकाश डाला। संचालन कर रहे कार्यक्रम के संयोजक डॉ संजय कुमार सिंह ने विषय का प्रवर्तन कर मृदा संकट एवं उसके संरक्षण पर प्रकाश डाला। 

कार्यक्रम में महाविद्यालय के डॉक्टर नरेंद्र त्रिपाठ, डॉ आशुतोष सिंह, डॉक्टर संतोष कुमार यादव, डॉ प्रमोद गुप्ता ,डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा, श्री राजन, सुरेश चैरसिया, श्री शमशेर मल्ल, देवानंद, विजय शंकर लाल श्रीवास्तव आकृति धनंजय श्वेता आदि मौजूद रहे।

 

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel