अमेठी की ताजा टॉप ब्रेकिंग खबरे

अमेठी की ताजा टॉप ब्रेकिंग खबरे

जब वह अपनी माँ के साथ दशहरा व दुर्गा पूँजा देखकर घर वापस लौट रही थी।


 स्वतंत्र प्रभात 
 

7वर्षीय बालिका के साथ दरिन्दो ने किया दुष्कर्म

 जगदीशपुर विधायक व भाजपा राज्यमंन्त्री सुरेश पासी और अमेठी सांसद स्मृति ईरानी के क्षेत्र में शर्मशार घटना


जगदीशपुर अमेठी पुलिस की उरदासीनता के चलते अराजकतत्वों में खाकी वर्दी का खौफ खत्म हो चुका है।बीती रात दशहरा व दुर्गापूंजा देखने आई मासूम बालिका को जबरन घसीट कर युवक ने  दुराचार किया।


दुष्कर्म करने के बाद बेहोशी की हालत में छोड़ कर फरार हो गया। जिसे उपचार के लिए सीएच में भर्ती कराया गया।हालत गंभीर देख तत्काल जिला अस्पताल रेफर किया।
  जानकारी के लिए बता दे कि मामला जगदीशपुर कोतवाली के अंतगर्त स्थिति एक गाँव निवासी  सात वर्षीय मासूम बालिका के साथ युवक ने जबरन घसीट कर दुष्कर्म उस वक्त किया जब वह अपनी माँ के साथ दशहरा व दुर्गा पूँजा देखकर घर वापस लौट रही थी।


कि वासना के मद में चूर युवक ने जबरन घसीटते हुए सूनसान जगह में ले जाकर जबरन दुराचार किया।बालिका चीखती चिल्लाती रही जब बेहोश हो गई तब युवक मरणासन्न अवस्था में छोड़कर फरार हो गया। जिसकी तलाश में भटकते परिजन जब लड़की को बेहोशी की हालत में देखकर होश उड़ गये। तत्काल उपचार के लिए सीएच सी जगदीशपुर में भर्ती कराया गया।जहाँ पर चिकित्सको ने नाजुक हालत देखकर जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

कानून ब्यवस्था के ठेकेदार पुलिस की आँख तब खुली जब पीढ़िता की माँ हीलते काँपते कोतवाली पहुँची। पीडिता की मां द्बारा पुलिस को पूरी दास्तान बताने पर पुलिस ने मामले को दबाने का प्रयास किया।


 परन्तु घटना की खबर जिले से प्रदेश तक गूँजने पर अंन्तोगत्वा पुलिस ने धारा 376 व पास्को एक्ट के अंतर्गत मुकदमा पंजकृति कर मुलजिम की तलाश में जुट गई। 
ग्रामीणों की माने तो आक्रोशित लोगों ने दुराचारी को पकड़ पुलिस के हवाले किया। बताते चले कि पुलिस व अराजकतत्वों में तालमेल के चलते क्षेत्र में घटनाओं का अंम्बार लगता जा रहा है।यदि आलाधिकारियों ने गौर न किया तो राज्य मंन्त्री व केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के क्षेत्र को खाँकी वर्दी ले डूबेगी।शाक्ति मिशन नारी सुरक्षा योजना ने तोड़ा दम। 

सरकार द्वारा चलाई गई नारी मिशन शाक्ति योजना को पुलिस की कार्यशैली के चलते दम तोडती जा रही है।कारण कि छेड़छाड रेप जैसी घटना घटने पर अधिकतर लोग आबरू इज्जत बचाने के डर से मामले को पुलिस के पास तक नही जाते।
यदि ले भी गये तो पहले पुलिस पटकार कर भगा देती है।

जब मामला आलाधिकारियों तक पहुँचता है तब रिपोर्ट दर्ज करने की जहमत उठाती है। 
घटना के संम्बंध में क्षेत्राधिकारी मनोज कुमार यादव ने बताया कि ढुराचारी के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृति कर जेल भेज दिया गया।


मूर्ति देखकर लौट रही विवाहिता के साथ किया दुराचार का प्रयास,

 जगदीशपुर अमेठी बीतीरात गाँव में स्थापित दुर्गापूंजा मूर्ति देखकर घर लौट रही विवाहिता को मंनचले ने छेड़छाड़ करते हुए दुराचार का प्रयास किया।हल्ला गुहार मचाने पर लोगों के दौडने पर रफूचक्क२ हो गया।

कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत केशव दास  मजरे उत्तरगाव निवासी मनोजा देवी पत्नी हरिकेश के साथ घटना उस वक्त घटी जब गाँव के कुछ दूर पर स्थापित दुर्गा प्रतिमा पर कार्यक्रम संम्पन्न होने के बाद वापस घर लौट रही थी।अकेली पाकर मनचले ने छेड़छाड करते हुए दुराचार का प्रयास किया। शोरगुल मचाने पर जब लोग दौड़े तब युवक भाग खड़ा हुआ भुक्तभोगी ने बताया की 112नं पुलिस के पहुंचने पर मनचला पकड़ में नहीं आया।  घटना की तहरीर थाने में देकर कार्यवाही की मांग की गई है समाचार लिखे जाने तक पीढ़ित कीं एफ आई आर दर्ज नहीं हुई ।

 इस संबंध में कोतवाल ने बताया कि तहरीर मिली है छेड़छाड़ की दुराचार के प्रयास का मामला संदिग्ध है। जांच की जा रही है।खबर लिखे जानें तक पीढ़ित का मुकदमा नही दर्ज किया गया था। कहीं पुलिस घटना को दबाने का प्रयास तो नही कर रही है।

सरकारी अस्पताल में जला दी लाखों की दवाइयां,पल्ला झाड़ रहे जिम्मेदार 

अमेठी जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिंहपुर में स्वास्थ्य कर्मियों का नया कारनामा सामने आया है जहां आपको बता दें कि स्वास्थ्य कर्मियों ने सरकारी अस्पताल की लाखों रुपए की दवाएं अस्पताल प्रांगण में जलाकर राख के ढेर में तब्दील कर दिया है।जहां एक तरफ केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश की सरकार गरीबों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए विभिन्न प्रकार की औषधियां सरकारी अस्पताल को उपलब्ध करा रही है।

तो वही मोटी रकम कमाने के चक्कर में अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मी बाहर के मेडिकल स्टोर की पर्ची लिखकर मरीजों से दवाइयां मंगा कर लोगों का पैसे खर्च करते हैं।
तो वही सरकारी अस्पताल में रखी निशुल्क वितरण के लिए दवाएं राख के ढेर में तब्दील की जा रही है।

वहीं इस मामले को लेकर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों में हड़कंप मच हुआ है। इस संबंध में सीएचसी सिंहपुरअधीक्षक संतोष गुप्ता से बात की गई तो पल्ला झाड़ते हुए कहा कि यह दवाइयां मेरे कार्यकाल में नहीं जलाई गई हैं जबकि 2 महीने से अधिक समय से यहां के अधीक्षक हैं एक माह पहले बारिश इतनी तेज हुई है कि लोगों के मकान तक पानी में बह गए हैं और यह दवाइयां सुरक्षित रह गई अधीक्षक महोदय के बयान से यह ताजुब हो रहा है।

ई श्रम के नाम पर की लाखों की धोखाधड़ी

शुकुलबाज़ार अमेठी चोरो के हौसले इस तरह बुलन्द हो गए है कि खुले आम ग्रामीणों के नाक के नीचे से लाखों रुपये की धोखाधड़ी करके फरार हो गए।
 किसी को कानोकान भनक तक नही हुई।


जानकारी के लिए बता दे कि अमेठी जनपद के शुकुलबाज़ार थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्रामसभा बलापुर में ई श्रम कार्ड बनाने के नाम पर दो अजनवी व्यक्ति गांव में प्राथमिक विद्यालय पर आए।

और वहां के प्रधान और आशा से ग्रामीणों को आधार कार्ड लेकर ई श्रम कार्ड बनवाने की गांव वालों को बुलाने की बात कही।
प्रधान के आदेश पर ग्रामवासी प्राथमिक विद्यालय पर आधार कार्ड लेकर पहुंचे।
सबका आधार कार्ड जमा किया गया तथा उन सबके के फिंगरप्रिंट भी लिए गए।


अब बेचारे ग्रामीणों को क्या पता था कि ई श्रम कार्ड के नाम पर  उनके एकाउंट खाली हो जाएंगे।
कुछ ऐसे ग्रामीणों का जिनका आधार कार्ड लेकर अंगूठा रख़ाकर उन सब के अकाउंट से पैसे ही गायब कर दिए।
जब ग्रामीणों के मोबाइल पर बैंक का मैसेज आया तो ग्रामीणों की आँखे खुली की खुली रह गयी।


कुछ समय बाद सभी के मोबाइल नम्बर पर एक मैसेज आया और जब मैसेज गांव वालों ने देखा तो उनकी आंखें खुली की खुली रह गयी।
इस बात की जानकारी होने के बाद जब ग्रामीण ई श्रम कार्ड बनाने वाले को पकड़ते वो सब फरार हो चुके थे।
 मौके पर आशा बहू व प्रधान प्रतिनिधि भी रहे मौजूद।
लगभग 25 से 30 लोगों के एकाउंट हो चुके है खाली।


जहां एक तरफ एसपी दिनेश सिंह चोरी और अपराध पर अंकुश लगाने को लेकर सख्ती बरत रहे हैं वही दूसरी तरफ चोरों के दिन दहाड़े हौसले बुलंद हो रहे है।
वही इस मामले में जब थानाध्यक्ष निर्मल सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा तहरीर मिली है आगे की कार्यवाही की जा रही है।
 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel