बिशेश्वरगंज में शिक्षकों व सामाजिक संगठनों ने निकाला कैंडिल मार्च

बिशेश्वरगंज में शिक्षकों व सामाजिक संगठनों ने निकाला कैंडिल मार्च

जम्मू कश्मीर में हुए कत्ले आम के विरोध में निकाला कैंडिल मार्च


स्वतंत्र प्रभात 



बिशेश्वरगंज-बहराइच

कश्मीर में आतंकियों द्वारा किए गए हिंदू शिक्षकों व अन्य नागरिकों के कत्लेआम के खिलाफ बिशेश्वरगंज में रविवार देर शाम को लोगों ने यादव होटल से बस स्टॉप पुरैना चौराहा होते हुए ब्लाक परिसर तक कैंडिल मार्च निकाल कर आंतकवाद के खिलाफ नारा बुलंद कर मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। कैंडिल मार्च राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ बहराइच शाखा बिशेश्वरगंज व क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ताओं के द्वारा निकाली गयी।

 राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के जिला संयुक्त महामंत्री रवि मोहन शुक्ल ने कहा कि कश्मीर में हिन्दुओं को निशाना बनाया जाना बेहद चिंतनीय है। उन्होंने कहा आतंकी 1990 की घटना को दोहराने की साजिश में हैं। उन्होंने सरकार से आतंकियों को खिलाफ कड़ी कार्यवाही व सुरक्षा के दृष्टिकोण से कश्मीर के प्रत्येक हिन्दू परिवार को फौज की ट्रेनिंग व हथियार के लाइसेंस देने की मांग की। साथ ही उन्होंने मृतकों के परिवार को सरकारी नौकरी व मुवावजे की भी मांग की।

 मार्च में लोगों के अंदर आतंकवाद के खिलाफ काफी रोष दिखा, लोगों ने आंतकवाद मुर्दाबाद, कश्मीरी हिन्दुओं को न्याय दो, कत्लेआम बंद हो, का नारा बुलंद किया। कैंडिल मार्च में सामाजिक कार्यकर्ता विजय शुक्ल, पवन चौबे, प्रदीप शुक्ल गप्पू, महेंद्र तिवारी, प्रधान प्रतिनिधि राजेन्द्र त्रिपाठी, पूर्व प्रधान संतोष तिवारी, आनन्द पाण्डेय, प्रधान सुनील गोस्वामी प्रधान प्रतिनिधि मुन्ना वर्मा, 

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ बिशेश्वरगंज के सहसंयोजकगण शरद शुक्ल, राजीव तिवारी, विपिन बिहारी तिवारी, शिक्षकगण विनय पाण्डेय, दीप नारायण पाण्डेय, उदय प्रकाश मिश्र, मनोज पाण्डेय, संजय तिवारी, चेतन पाठक समाजसेवी, अरविंद पाण्डेय गुड्डू पाठक, रमन पाठक, प्रदीप शुक्ल पवन गोस्वामी अनुज पाठक सहित अन्य तमाम लोग उपस्थित रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel