शहीद कासिम सुलेमानी इंसानियत के पैरोकार थे top 5 news

शहीद कासिम सुलेमानी इंसानियत के पैरोकार थे top 5 news

विवादित जमीन पर दो अलग -अलग व्यक्तियों को बैंक ने दिया कर्ज बीओबी की शाखा ऐनवा व महुवारी का है मामला केदारनगर,अम्बेडकरनगर बैंक आफ बड़ौदा की शाखा ऐनवा और महुवारी से अक्सर धांधली की खबरें सामने आती रही है। एक बार फिर इन शाखाओं के द्वारा बड़ी धांधली करने का मामला प्रकाश में है। विवादित

विवादित जमीन पर दो अलग -अलग व्यक्तियों को बैंक ने दिया कर्ज


बीओबी की शाखा ऐनवा व महुवारी का है मामला


केदारनगर,अम्बेडकरनगर

बैंक आफ बड़ौदा की शाखा ऐनवा और महुवारी से अक्सर धांधली की खबरें सामने आती रही है। एक बार फिर इन शाखाओं के द्वारा बड़ी धांधली करने का मामला प्रकाश में है। विवादित जमीन पर बैंक आफ बड़ौदा की इन दोनों शाखाओं ने दो अलग अलग व्यक्तियों को ऋण दिया है। जिस भूमि पर ऋण दिया गया उस भूमि का मामला न्यायालय में विचाराधीन है जिस दौरान किसी भी प्रकार का कोई भी ऋण नही मिल सकता । यह बैंकों का नियम है। लेकिन बैंक आफ बड़ौदा की शाखा ऐनवा चैकी और महुवारी ने ऐसा कारनामा कर दिखाया है। इस भूमि का प्रकरण 23 साल से न्यायालय में विचाराधीन है । वही बैंकों की मनमानी के कारण व्यापार के लिए युवाओं को ऋण नही मिल पा रहा है। जरूरत मंद युवा अपराध के तरफ अपना कदम बढ़ाने के लिए मजबूर हो रहे है।

इस पूरे प्रकरण की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर किया गया जिसपर महुवारी शाखा ने चैका देने वाला जवाब दिया है। जिसमे साफ – साफ लिखा है कि उक्त भूमि पर कोई विवाद नही है जबकि कागजात यह चिल्ला रहे है कि वाद न्यायालय में विचाराधीन है। वही ऐनवा चैकी शाखा ने समय सीमा बीतने के बाद भी कोई जवाब नही दिया है। गौरतलब है कि गाटा संख्या 869,926 पर मुकदमा दौरान एक लाख पैंतीस हजार रुपये का ऋण बैक आफ बड़ौदा की शाखा ऐनवा ने रामचेत पुत्र केशर को लगभग एक वर्ष पूर्व दिया वही दूसरी तरफ इसी गाटा संख्या पर वृजलाल पुत्र जोखू को ऐनवा शाखा ने आठ माह पूर्व तीन लाख अठ्ठाशी हजार रुपये का ऋण दिया है।

बात यह समझ मे नही आ रही है क्या ऐसा भी संभव हो सकता है कि एक जमीन वह भी विवादित होने बावजूद दो अलग अलग लोगों को ऋण मिलना संभव कैसे हो पाता है। बारीकियो को देखने के बाद यह पता चला कि ऐसे मामलों में दलाल और फील्ड आफिसर मिल कर ऐसे खेल को अंजाम देते है बाद में बैंक मैनेजर को भी मैनेज कर लिया जाता है। मुख्य भूमिका फील्ड ऑफिसर और उनके दलाल की होती है।

वैसे तो बिना कमीशन कोई ऋण पास नही होता है बस कमीशन की राशि ज्यादा और कम हो सकती है इस प्रकरण में भी यही हुआ होगा बस कमीशन की रकम मोटी रही होगी। खैर शिकायतकर्ता में ऐनवा शाखा के जवाब न मिलने पर इस प्रकरण की शिकायत मुख्यमंत्री से की है।

वही इस बैंक के एक उच्च अधिकारी का कहना है कि भूमि अगर विवादित होने के साथ मामला न्यायालय में विचाराधीन है तो उक्त भूमि पर ऋण नही दिया जाता है इस प्रकरण में लग रहे आरोपो के बारे में पूछे जाने पर कोई संतोषजनक जवाब नही मिल सका।
बनते ही उखड़ गई सड़क

युवती से दुराचार प्रकरण में दलालों ने खाया पैसा, उपनिरीक्षक ने दिया आरोपी को हाजिर होने का समय – वाह साहब!


दलालों ने कथित वीडियो वायरल कर सिपाही को किया ब्लैकमेल करने की कोशिश
वीडियो में एक राहुल पाण्डेय नामक दलाल ने लिया है पैसा


केदारनगर,अम्बेडकरनगर

इब्राहिमपुर पुलिस अपनी लुटिया खुद डूबा रही है जिसमे इस थाने के उपनिरीक्षक राम प्रताप सिंह यादव की भूमिका अहम ही माना जाय तो अच्छा है। नारी सुरक्षा को लेकर यह पूर्व से ही बेपरवाह रहे हैं। इनकी लापरवाही के किस्से भी कई बार सामने आ चुके है। ताजा मामला इन्ही के हल्के का है। बता दे कि कशियापुर गाँव का बीते वर्ष ही एक प्रकरण इनके समक्ष आया था जिसमे एक युवती ने गाँव के ही एक युवक पर शादी का झांसा देकर दुराचार करने का आरोप लगाया गया था जिसमे उपनिरीक्षक राम प्रताप सिंह यादव के द्वारा खूब मानवता बरती गई मानवती भी ऐसी की न तो आरोपी के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज किया और न ही कोई खोज खबर ही लिया गया।

उच्च अधिकारियों के आदेश को भी यह उपनिरीक्षक कई बार नजर अंदाज कर चुका है और इस प्रकरण में भी वही खेल कर दिए है और अरोपी को हाजिर होने का समय दे दिया है। सुना तो बहुत था लेकिन पता आज चल पाया कि पुलिस आरोपियों की मेहमान नवाजी कैसे करती है। आरोपी को पुलिस ने पिछले वर्ष की 24 दिसंबर की तारीख को हाजिर होने को कहा था लेकिन आरोपी आज तक हाजिर नही हुआ। इस प्रकरण में इस उपनिरीक्षक की कारिस्तानी में दलालों ने भी आरोपियों से खूब वशूली की जिसका ठीकरा एक सिपाही पर दलालों के द्वारा फोड़ने का असफल प्रयास किया गया। इस उपनिरीक्षक को बढ़ावा भी जिला प्रशासन दे रही है इनके हर गतिविधियों की जानकारी जिले के आला हाकिम को है लेकिन कार्यवाई के नाम पर ये भी दूर भागते है।

इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र में नारी सुरक्षित नही है जो इस प्रकरण से साफ जाहिर होता है। पुलिस इस प्रकरण में कोई जवाब देने को तैयार नही है। इसी मामले में दलालों ने एक वीडियो वायरल कर दिया जिसमें यह दावा किया जा रहा है एक सिपाही के द्वारा घूस लिया गया है लेकिन पूरी वीडियो यह कही साबित नही हो रहा कि सिपाही ने पैसा लिया है लेकिन सिपाही के बगल खड़े खुद को पत्रकार बताने वाला राहुल पांडेय है जिसको दूसरा कोई व्यक्ति लगभग दो हजार रुपये दे रहा है जिसको राहुल गिन कर अपनी जेब मे रखता हुआ दिख रहा है जिसमें सभी नोट पाँच सौ की है जो वीडियो में साफ देखा जा सकता है।

कथित वीडियो को लेकर आखिर इस सिपाही पर कैसे आरोप लगाया जाय यह भी चिंता का विषय है। इस प्रकरण में पुलिस ने आरोपी के भाई को गिरफ्तार किया था लेकिन उपनिरीक्षक राम प्रताप सिंह यादव ने बाद में छोड़ दिया। उपनिरीक्षक राम प्रताप सिंह यादव के कार्यशैली पर प्रश्न चिह्न लग रहा है। जिसका जवाब देना इस उपनिरीक्षक के बस की बात नही है।

शहीद कासिम सुलेमानी इंसानियत के पैरोकार थे’


’कासिम सुलेमानी ने इंसानियत की हिफाजत और आतंकवाद के खिलाफ आंदोलन करने का काम किया’


अंबेडकरनगर –

नगर के लोरपुर ताजन के मोहल्ला हुसैनाबाद में मंगलवार की रात्रि मौलाना शफाअत हुसैन अदीब आजमी की अध्यक्षता में अमेरिका के हवाई हमले में ईरानी सेना के कमांडर शहीद कासिम सुलेमानी और नौ अन्य बेगुनाह लोगों की मौत के बाद ताजियती मजलिस व दुआखानी का आयोजन मरहूम मीर तालिब हुसैन के इमामबारगाह में किया गया कार्यक्रम का संचालन इरशाद लोरपुरी व मजलिस के पूर्व पेशखानी अरबाब लोरपुरी व नइयर हुसैन खॉ ने किया वही ताजियती मजलिस को संबोधित करते हुए मौलाना सैयद नफीस रजा ने कहॉ कि शहीद कासिम सुलेमानी इंसनियत के पैरोकार थे।उन्होंने अपनी जिंदगी इंसानियत की हिफाजत और आतंकवाद के खिलाफ आंदोलन करने का काम किया।

वही दूसरी मजलिस को संबोधित करते हुए मौलाना सैयद इंतजार मेहदी फैजी ने कहॉ कि पाकिस्तान में फंसे कुलदीप जाधव की रिहाई के लिए कासिम सुलेमानी ने जंग लड़ी। इसी तरह के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई बार इंसानियत के लिए भेदभाव किए बिना आंदोलनकारी कार्य किया। वही जाकिरे करबला निजाम अब्बास ने कहॉ कि शहीद कासिम सुलेमानी को देश के कुछ चैनलों ने आतंकी के रूप में पेश किया जिसकी हम घोर निंदा करते है कासिम सुलेमानी के तेज तर्रार प्रवृत्ति से अमेरिका को बहुत डर लगता था।

मौलाना सैयद शबाब हैदर इमामे जुमा लोरपुर ने कहॉ कि अमेरिकी फौज ने शहीद कासिम सुलेमानी के साथ वही किया है, जो यजीद ने इमाम हुसैन के साथ किया था। मौलाना शफाअत हुसैन अदीब आजमी ने कहॉ कि तीन जनवरी की रात इस्लाम और इंसानियत के विरोधी हैवानों के नापाक इरादों की वजह से कासिम सुलेमानी शहीद हो गए मजलिस के अंत में कर्बला के शहीद इमाम हसन के बेटे जनाबे कासिम के बारे में बयां किया जिसे सुनकर उपस्थित लोगों के आखों से आंसू बहने लगे। ताजियती मजलिस में कासिम सुलेमानी जिन्दाबाद अमरीका हुकूमत मुर्दाबाद के नारे लगाए गए इस दौरान ताजियती मजलिस में हजारों की संख्या में लोगों का जनसैलाब उमड़ा रहा।

चोरों ने पार की 12 वोल्ट की बैट्री


अम्बेडकरनगर

अहिरौली थाना क्षेत्र के अशरफपुर बरवां बाजार मंे सांसद निधि से लगी हाई मास्ट लाइट की बैट्री चोरों ने पार कर दिया। सूचना होने पर बाजार वासियों ने अहिरौली थाने में तहरीर देकर चोरों को पकड़े जाने की मांग की है। बाजार वासियों का कहना है कि बाजार में हाई मास्ट लाइट लगी हुई हैं उसमें 12 वोल्ट की बैट्री भी लगाई गई थी। चोरों ने किसी को पता न चले इसको लेकर लाइट की बैट्री निकाल ली और उसमें पुरानी बैट्री डाल दी। जब लाइट नही जली तो बाजार वासियों को शक हुआ तो उन लोगों ने ऊपर चढ़ कर देखा तो नई बैट्री गायब थी और वहां पुरानी बैट्री लगाई गई थी। श्याम कुमार मौर्य, छोटेलाल, राजेन्द्र, मुन्ना, ओम प्रकाश आदि ने थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है। इसके पूर्व अहिरौली थाना क्षेत्रों में हुई आधा दर्जन से अधिक चोरियों का खुलासा पुलिस ने नही कर सकी है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

अंतर्राष्ट्रीय

नेपाल में एयरपोर्ट पर रोकी गईं उड़ानें, अंतर्राष्ट्रीय सेवाएं बाधित नेपाल में एयरपोर्ट पर रोकी गईं उड़ानें, अंतर्राष्ट्रीय सेवाएं बाधित
स्वतंत्र प्रभात। नेपाल के त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उड़ानें रोकने का समाचार है।  नेपाल के पोखरा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर हुए...

Online Channel