फाइनेंस कंपनियों के वसूली पर रोक हो- अजय कुमार राणा 

कटकमदाग – झारखण्ड 

कोरोना महामारी के बढ़ते मामले को लेकर जहां प्रशासन महामारी के रोकथाम में जुटी है प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन एवं नियमों का आम जनता पालन कर रही है

                        सरकार द्वारा सभी दुकान व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद करवा चुकी है वहीं ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपनी छोटी-छोटी जरूरत पूरा करने के लिए कई माइक्रोफाइनेंस कंपनियों से कर्ज लेकर फंसे हैं इस स्थिति में कई माइक्रोफाइनांस कंपनियों के एजेंट ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को डरा धमका कर पैसे जमा करने का दबाव बना रहे हैं इस स्थिति मे ग्रामीण क्षेत्रों में एक वक्त के खाने का लाला पड़ रहा है लोग बीमारी से परेशान हैं इस महामारी से कैसे बचा जाए इस पर लोग ध्यान दे रहे हैं

                वहीं प्राइवेट कंपनियों का इस तरह व्यवहार मानवता का हद पार करने वाला है अगर इसी तरह का स्थिति बना रहा तो आम आदमी बीमारी से बाद में आत्महत्या लोग पहले करेंगे विज्ञप्ति के माध्यम से मैं अजय कुमार राणा सांसद प्रतिनिधि कटकमदाग उपायुक्त महोदय से मांग करता हूं कि लॉकडाउन अवधि भर भारत माइक्रो फाइनेंस कंपनियां प्राइवेट कंपनियों को वसूली पर रोक लगाने की कृपा की जाए