विद्यालय प्रांगण से निकली हाईटेंशन लाइन दे रही हादसे को दावत

विद्यालय प्रबंधन की शिकायत के बावजूद विभाग मौन


बांगरमऊ-उन्नाव स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो:-

क्षेत्र के ग्राम काजीपुर कच्छ स्थित उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रांगण से निकली हाईटेंशन विद्युत लाइन के झूलते तार छात्र-छात्राओं के लिए खतरा बने हुए हैं। विद्यालय प्रबंधक द्वारा जिला प्रशासन से शिकायत करने के बावजूद विद्युत विभाग अभी तक तारों के नीचे सुरक्षा जाल नहीं लगा सका है। विद्यालय प्रबंधन ने पुनः उप जिलाधिकारी से विद्युत तारों के नीचे जल्द सुरक्षा जाल लगाए जाने की मांग की है।ग्राम काजीपुर कच्छ स्थित प्रेमदास यादव उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रबंधक रमेश यादव द्वारा उप जिलाधिकारी अक्षत वर्मा को सौपे गये शिकायती पत्र के अनुसार विद्यालय परिसर के निकट से उच्च क्षमता की विद्युत लाइन निकली हुई है

लेकिन विद्युत लाइन के नीचे जाल नहीं बिछाया जा सका है। जबकि प्रदेश के मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय द्वारा अरसा पूर्व स्कूलों और अस्पतालों के आसपास खतरनाक विद्युत लाइने हटाने का निर्देश जारी किया जा चुका है। बीते रविवार को इसी विद्युत लाइन का एक तार तेज स्पार्किंग के साथ टूटकर विद्यालय परिसर में आ गिरा और धूं-धंूकर जलने लगा। हादसे की आशंका से विद्यालय प्रबंधक ने विद्युत उपकेंद्र को घटना की सूचना दी।

तब उपकेंद्र से आपूर्ति ठप्प की जा सकी। इसके पूर्व भी कई बार विद्युत लाइन का तार टूटकर गिर चुका है। जिसकी चपेट में आने से छात्र-छात्राएं बाल-बाल बचें हैं। प्रबंधक श्री यादव के अनुसार विद्युत लाइन के नीचे जाल बिछाने को लेकर उन्होने सम्पूर्ण समाधान दिवस, जनसुनवाई, एसडीओ विद्युत तथा जिलाधिकारी को कई शिकायती पत्र प्रेषित किया लेकिन

यह सभी अर्जियां रद्दी की टोकरी में फेंकी जाती रही हैं। जबकि पहली जुलाई से विद्यालय खोला जाना है। प्रबंधक ने एसडीएम से झूलते विद्युत तारों से किसी भी समय गंभीर हादसा होने की आशंका जताई है। उप जिलाधिकारी ने उपकेंद्र के अधिशासी अभियंता को समस्या का जल्द समाधान किए जाने का निर्देश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here