भारत से वैश्विक डिजिटल उत्पाद, सेवाओं वाली कंपनी के उभरने का समय : मुकेश अंबानी

भारत-से-वैश्विक-डिजिटल-उत्पाद,-सेवाओं-वाली-कंपनी-के-उभरने-का-समय-:-मुकेश-अंबानी

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बुधवार को कहा कि भारत से वैश्विक स्तर के डिजिटल उत्पाद और सेवा कंपनी के उभरने का समय आ गया है। इसी संदर्भ में उन्होंने वैश्विक अवसरों की ओर बढ़ने और घरेलू तथा अंतरराष्ट्रीय बाजारों से राजस्व के नए स्रोत तैयार करने के लिये समूह की कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स को प्रेरित किया।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के 43 वें सालाना वार्षिक बैठक को संबोधित करते हुए अंबानी ने कहा कि पिछले कुछ साल में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ऐसे उद्योगों के बारे में विस्तृत ज्ञान हासिल किया है, जो भारतीय अर्थव्यवस्था के लिये महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि जियो प्लेटफॉर्म्स विभिन्न क्षेत्रों के इस ज्ञान को अपनी प्रौद्योगिकीय क्षमता के साथ जोड़ कर भारत के लिए विविध नवोन्मेषी पारिस्थितिकी तथा प्रबंधित सेवाएं तैयार कर सकती है।

अंबानी ने कहा, ‘‘ऐसे सभी समाधानों में एक बार भारत में परख लिए जाने के बाद वैश्विक समाधान बनने की क्षमता है। जिनका उपयोग दुनिया के बाकी हिस्सों में सेवा प्रदान करने के लिये किया जा सकता है। मैं इस वैश्विक अवसर को आगे बढ़ाने और घरेलू तथा वैश्विक दोनों बाजारों से राजस्व का एक महत्वपूर्ण स्रोत तैयार करने का जियो प्लेटफॉर्म्स के समक्ष लक्ष्य निर्धारित कर रहा हूं।’’

अंबानी ने कहा कि उनका मानना है, वास्तव में भारत से वैश्विक डिजिटल उत्पाद और सेवा कंपनी के उभरने और दुनिया में अव्वल बनने का समय आ गया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जियो प्लेटफॉर्म्स की 7.7 प्रतिशत हिस्सेदारी के बदले गूगल से 33,737 करोड़ रुपये निवेश की बुधवार को घोषणा की।

इससे पहले फेसबुक, क्वालकॉम, इंटेल कॉर्प, जनरल अटलांटिक, केकेआर, टीपीजी समेत कई बड़े वैश्विक निवेशक जियो प्लेटफॉर्म्स में पैसे लगा चुके हैं। अब गूगल के निवेश के बाद जियो प्लेटफॉर्म्स को 1,52,056 करोड़ रुपये के निवेश प्राप्त हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here