ज्ञानेन्द्र व पवन को मिला जनकवि पं.वंशीधर शुक्ल पुरस्कार 

ज्ञानेन्द्र व पवन को मिला जनकवि पं.वंशीधर शुक्ल पुरस्कार 
सुलतानपुर
जिले के दो युवा साहित्यकारों को लखीमपुर-खीरी में हुये भव्य साहित्यिक समारोह में सम्मानित किया गया है । जिससे जनपदवासियों में प्रसन्नता है।
 राणा प्रताप स्नातकोत्तर महाविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह ‘रवि’ व कादीपुर तहसील के रानेपुर गांव निवासी पवन कुमार सिंह को अवधी साहित्य में योगदान के लिए जनकवि पं.वंशीधर शुक्ल पुरस्कार प्रदान किया गया है । यह सम्मान राष्ट्रकवि पं.वंशीधर शुक्ल स्मारक एवं साहित्य प्रकाशन समिति , लखीमपुर-खीरी द्वारा आयोजित भव्य समारोह में खीरी के जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक विजय ढुल ने प्रदान किया । दोनों साहित्यकारों को अंगवस्त्र , सम्मान पत्र व स्मृति चिन्ह आदि देकर सम्मानित किया गया । समारोह की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार आशुकवि मथुरा प्रसाद सिंह ‘जटायु’ ने की ।
 इस समारोह में दोस्तपुर ब्लाक की  सहिनवां निवासी रीता चतुर्वेदी का  सारस्वत सम्मान उनकी अनुपस्थिति में  उनके पति कृष्ण मणि चतुर्वेदी ‘मैत्रेय’ ने ग्रहण किया ।
राष्ट्रकवि पं.वंशीधर शुक्ल स्मारक समिति द्वारा लगभग चार दशकों से जनकवि वंशीधर शुक्ल के जन्मदिन पर लखीमपुर-खीरी जनपद के मन्योरा ग्राम स्थिति जन्मभूमि पर एक भव्य साहित्यिक आयोजन किया जाता है ।  जिसमें देश भर के साहित्य सेवी जुटते  हैं । इस वर्ष यहां देशभर के लगभग बारह साहित्यकारों को विभिन्न सम्मान से पुरस्कृत किया गया ।
  ‘कदम कदम बढ़ाये जा ,खुशी के गीत गाए जा’ , ‘उठ जाग मुसाफिर भोर भई’, ‘ मोरे चरखे का टूटे न तार ,चरखवा चालू रहे’ जैसी अनेक बहुचर्चित कविताओं के रचयिता , स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व विधायक रहे वंशीधर शुक्ल की धरती पर जनपद के दो युवा साहित्यकारों का सम्मान होने से जनपद का गौरव बढ़ा है ।
उल्लेखनीय है कि ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह रवि ने अवधी आलोचना तथा पवन कुमार सिंह ने अवधी काव्य रचना में अपनी  विशिष्ट पहचान बनाई है ।
 इस सम्मान पर वरिष्ठ साहित्यकार कमल नयन पाण्डेय , डॉ.आद्या प्रसाद सिंह प्रदीप , मथुरा प्रसाद सिंह जटायु , सुशील कुमार पाण्डेय साहित्येन्दु , शोभनाथ शुक्ल , डॉ.ओंकारनाथ द्विवेदी , के.एन.आई.प्राचार्य डॉ.राधेश्याम सिंह , राणा प्रताप पी.जी. कॉलेज प्राचार्य डॉ .एम.पी.सिंह व डॉ.डी.एम.मिश्र समेत अनेक प्रमुख लोगों ने प्रसन्नता जताई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here