अयोध्या धाम में श्री राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखने पर निस्वार्थ फाउंडेशन का ऐतिहासिक पहल

स्वतंत्र प्रभात बलरामपुर जिले के रामलीला में राम लक्ष्मण हनुमान का भूमिका अदा करने वाले कलाकारों को निस्वार्थ फाउंडेशन ने किया सम्मानित सम्मान पाते ही कलाकारों की खुशी का नहीं रहा ठिकाना बलरामपुर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र के राम नगरी अयोध्या धाम में श्री राम मंदिर निर्माण की नीव रखने पर जिले की सामाजिक

स्वतंत्र प्रभात बलरामपुर

जिले के रामलीला में राम लक्ष्मण हनुमान का भूमिका अदा करने वाले कलाकारों को निस्वार्थ फाउंडेशन ने किया सम्मानित

सम्मान पाते ही कलाकारों की खुशी का नहीं रहा ठिकाना

बलरामपुर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र के राम नगरी अयोध्या धाम में श्री राम मंदिर निर्माण की नीव रखने पर जिले की सामाजिक संस्था निस्वार्थ फाउंडेशन ने भारत देश की बड़ी उपलब्धि बताया है इस भव्य उपलब्धि एवं कार्यक्रम आयोजन के उपलक्ष में संस्था ने जिले के 78 वा साल सबसे पुरानी रामलीला

भगवतीगंज श्री श्री 108 राम लीला संकीर्तन समिति भगवतीगंज के 1982 से लेकर लगातार राम भक्त हनुमान की भूमिका निर्वहन करने वाले प्रेम कुमार शर्मा को अंग वस्त्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया है वहीं संस्था ने वर्ष 2004 से लगातार

इस रामलीला कमेटी में राम की भूमिका अदा करने वाले शैलेंद्र कुमार शर्मा एवं लक्ष्मण की भूमिका अदा करने वाले अंकित शर्मा को भगवतीगंज राम जानकी मंदिर में अंग वस्त्र स्मृति चिन्ह के साथ भगवान राम माता सीता एवं लक्ष्मण की

संयुक्त तस्वीर भेंट कर उन्हें सम्मानित किया है सम्मान पाकर राम लक्ष्मण हनुमान की भूमिका अदा करने वाले इन कलाकारों की आंखों में आंसू आ गए उन्होंने कहा कि आज भगवान राम के अयोध्या धाम में मंदिर स्थापना की नींव

रखने के साथ-साथ आज सामाजिक संस्था निस्वार्थ फाउंडेशन पदाधिकारियों ने सम्मानित करके जो ऐतिहासिक कार्य किया है वह निश्चय ही जिले की सबसे प्राचीन रामलीला कमेटी भगवतीगंज के लिए बड़ी उपलब्धि से कम नहीं है फाउंडेशन के अगुआ रवीन्द्र गुप्ता कमलापुरी वरिष्ठ

पत्रकार डॉ अविनाश पांडे मोहित केसरवानी अनुराग रस्तोगी आलोकित श्रीवास्तव रवि कसौधन शुभम श्रीवास्तव प्रहलाद चौहान इन सभी लोगों ने रामलीला के इन जीवंत कलाकारों को राम जानकी मंदिर भगवतीगंज में सम्मानित करके इनके साथ श्री राम मंदिर निर्माण की आधारशिला

रखने पर दीपक जलाकर खुशियों का इजहार किया है रवीन्द्र गुप्ता कमलापुरी युवा समाजसेवी ने कहा कि हनुमान की भूमिका अदा करने वाले प्रेम कुमार शर्मा बाबा लगातार 1982 से रामलीला में अपनी अहम भूमिका निर्वहन करते हुए भगवान राम के सच्चे सेवक के रूप में जाने जाते

हैं आज रामलीला के ऐसे पात्रों के साथ बिताए पल में जो खुशी मिली है उसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है वही वरिष्ठ पत्रकार अविनाश पांडे ने कहा कि आज अयोध्या धाम में 492 वर्ष बाद भगवान श्री राम के मंदिर स्थापना का मार्ग प्रशस्त हुआ है इस भव्य समारोह के उपलक्ष में

आज जिले के सबसे प्राचीन 1943 से संचालित भगवतीगंज के रामलीला कमेटी में लंबे वर्षों से भगवान राम की भूमिका अदा करने वाले शैलेंद्र कुमार शर्मा एवं लक्ष्मण की भूमिका अदा करने वाले अंकित शर्मा को आज के

यशस्वी दिन पर सम्मानित करना किसी गौरव से कम नहीं है यह सभी कलाकार ही नहीं समाज के मार्गदर्शक हैं जो अच्छे कार्यों के लिए समाज का मार्गदर्शन करते हैं निस्वार्थ फाउंडेशन के सम्मानित कार्यक्रम के दौरान

भगवान राम लक्ष्मण हनुमान की भूमिका अदा करने वाले क्रमशा शैलेंद्र कुमार शर्मा अंकित शर्मा प्रेम कुमार शर्मा एवं सीता का रोल अदा करने वाले शुभम शर्मा ने निश्चित रूप से कहा कि कई वर्षों से भगवान राम एवं उनके

रामायण पर रामलीला का मंचन किया जा रहा है लेकिन आज भगवान राम के अयोध्या धाम में उनके मंदिर की आधारशिला रखने पर हम सभी कलाकारों को सम्मानित होना बड़े गर्व की बात है इन कलाकारों ने संस्था

के इस कार्य की सराहना करते हुए ऐसे उत्कृष्ट कार्य करते रहने की शुभकामनाएं दी हैं निस्वार्थ फाउंडेशन की माने तो जिले की सबसे प्राचीन भगवतीगंज रामलीला संकीर्तन समिति कमेटी भगवतीगंज का संचालन वर्ष

1943 से लगातार जारी है इस रामलीला कमेटी की सबसे बड़ी उपलब्धि यह रही है कि जो भी पात्र रामलीला के रहे हैं सभी पुरुषों ने की है आज तक कोई भी पात्र में महिला शामिल नहीं हुई है इस रामलीला कमेटी को हिंदू

मुस्लिम के एकता एवं प्रेम सौहार्द का प्रतीक माना जाता है यहां की रामलीला को देखने के लिए दर्शकों एवं श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है इतना ही नहीं लोगों की आस्था इस रामलीला से इतनी है कि रामलीला मंचन के दौरान

राम लक्ष्मण सीता हनुमान से तमाम दांपत्य अपने बच्चों के साथ आशीर्वाद लेना अपने को धन्य मानते हैं इस रामलीला के प्रमुख भूमिका अदा करने वाले कलाकारों को निस्वार्थ फाउंडेशन ने सम्मानित करके ना केवल भारतीय

सभ्यता में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के आदर्शों को आत्मसात करने के लिए लोगों

को प्रेरित किया है बल्कि भगवान श्री राम माता सीता के साथ-साथ लक्ष्मण एवं महाबली हनुमान के त्याग बलिदान संघर्ष एवं न्याय के गाथा को भी जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया है

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel