बरुआघाट मार्ग पर बारिश से बना गहरा खंदक,आवागमन बाधित

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो बांगरमऊ-उन्नाव। भीषण बारिश से गंगा कटरी को जाने वाले प्रमुख मार्ग बांगरमऊ बरुआ घाट रोड पर स्थित कल्याणी नदी के निकट करीब 10 फीट चैड़ा खंदक बन गया है। यदि जल्द मरम्मत न की गई तो कटरी क्षेत्र के करीब डेढ़ सैकड़ा गांवो का संपर्क ब्लॉक मुख्यालय से भंग हो सकता है।

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो बांगरमऊ-उन्नाव। भीषण बारिश से गंगा कटरी को जाने वाले प्रमुख मार्ग बांगरमऊ बरुआ घाट रोड पर स्थित कल्याणी नदी के निकट करीब 10 फीट चैड़ा खंदक बन गया है। यदि जल्द मरम्मत न की गई तो कटरी क्षेत्र के करीब डेढ़ सैकड़ा गांवो का संपर्क ब्लॉक मुख्यालय से भंग हो सकता है। कटरी क्षेत्र के प्रधानों ने जिला प्रशासन से गड्ढे में मिट्टी का भराव कराए जाने की मांग उठाई है।ब्लॉक मुख्यालय से गंगा कटरी की ओर जाने वाले एकमात्र प्रमुख मार्ग बरुआ घाट रोड से कटरी के भिखारीपुर कस्बा, चहलहा, मल्हपुर, माढापुर, शिवपुरी, सकरौली, कमलापुर, राजेपुर व कटरी गदनपुर आहार सहित करीब डेढ़ सैकड़ा गांव संबद्ध हैं। इन गांवों की करीब दो लाख आबादी का ब्लॉक मुख्यालय के लिए आवागमन इसी मार्ग से होता है।

बरुआघाट मार्ग पर बारिश से बना गहरा खंदक,आवागमन बाधित
बरुआघाट मार्ग पर बारिश से बना गहरा खंदक, आवागमन बाधित

इसके अलावा कटरी क्षेत्र के किसान अपनी कृषि उपज यहां की कृषि उत्पादन मंडी समिति लाने के लिए इसी मार्ग का प्रयोग करते हैं। जिला प्रशासन द्वारा बांगरमऊ बरुआ घाट मार्ग की मरम्मत बीते करीब एक दशक से नहीं कराई जा सकी है। मरम्मत के अभाव के चलते मार्ग पर गड्ढों की भरमार है और तेज बारिश से इन गड्ढों का आकार और भी बढ़ता चला जा रहा है। अब तो कल्याणी नदी पुल के निकट करीब 20 फिट लंबा और 10 फीट चैड़ा तथा काफी गहरा खंदक बन गया है। इस खंदक का दायरा बढ़ता ही जा रहा है। यदि मिट्टी से खंदक को जल्द पाटा न गया तो एक-दो दिन में ही मार्ग पर आवागमन अवरुद्ध हो जाएगा। गंगा कटरी क्षेत्र के राकेश यादव, मनोज यादव, राकेश गौतम, नरेश पासवान, रामसेवक यादव, प्रतिमा बाजपेई, पप्पू निषाद, धीरेंद्र कुमार निषाद व राकेश निषाद आदि प्रधानों ने जिला प्रशासन से लोक निर्माण विभाग की गैंग भेजकर खंदक को मिट्टी से भरान कराए जाने तथा मार्ग की जल्द मरम्मत कराए जाने की मांग की है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष