अंधेरे में डूबा मोहल्ला, जिम्मेदार मौन

विशेष संवाददाता गोण्डा -अतीक राईन गोण्डा – जनपद के नगर पालिका क्षेत्र के गली मोहल्लों में पथ प्रकाश की व्यवस्था तो की गई है लेकिन अधिकांश स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी हैं।जिससे रात के अँधेरे में राहगीरों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता।जिसे जिम्मेदार सुध ही नहीं ले रहे हैं। आपको बता

विशेष संवाददाता गोण्डा -अतीक राईन

गोण्डा –

जनपद के नगर पालिका क्षेत्र के गली मोहल्लों में पथ प्रकाश की व्यवस्था तो की गई है लेकिन अधिकांश स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी हैं।जिससे रात के अँधेरे में राहगीरों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता।जिसे जिम्मेदार सुध ही नहीं ले रहे हैं।

आपको बता दे जनपद के नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत वार्ड संख्या 06 बड़गांव में करीब एक महीने से रोड लाइट खराब पड़ी है जिससे रात के अंधेरे में स्ट्रीट लाइट से रोशनी नहीं निकलती है बल्कि सड़क किनारे चल ने वाले लोग लाइट के खंभे से टकरा रहे हैं।

जहाँ नगर पालिका परिषद ने लाखों रूपये खर्च कर के गलियों व सड़को के किनारे खंभे और लाइटे लगायी थी जिससे आने जाने वालो को किसी तरह परेशानी न हो वही इन स्ट्रीट लाइटों का ख़राब हो जाने से लाइट लगाने का उद्देश्य पूरा नहीं हो सका। सड़कों पर शाम होते ही अँधेरा छा जाता हैं।इन दिनों बारिश में गलियों में अँधेरा होने से महिलाओं व बुजुर्गो को आने जाने में डर लगता है। जिम्मेदार इन समस्याओं पर जरा भी ध्यान नहीं दे रहें हैं।

पूजा साहू स्थानीय निवासी –
बड़गांव में गली मोहल्ले में लंबे समय से स्ट्रीट लाइट ख़राब है ऐसे में स्थानीय लोगो को अंधेरी सड़क पर चलना लोगों की मजबूरी बना हुआ है। इसकी शिकायत सभासद शेष चौरासिया से की गई किन्तु समस्या का समाधान नहीं हो सका।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

राज्य

बगीचे में लटकता मिला युवक का शव, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा
प्रतिबंधित थर्माकोल प्लेट से भारी पिकअप प्रवर्तन दल ने पकड़ा
गोमती नदी में नहाते वक्त दो किशोर डूबे, हुई मौत पुलिस ने शव को बरामद कर परिजनों को सौंपा 
राज्य में पड़ रहे भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में 15 जून तक सभी स्कूल रहेंगे बंद, आदेश जारी
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन  ने राज्य में विधि- व्यवस्था  और अपराध -उग्रवाद नियंत्रण को लेकर वरीय  पदाधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक के साथ की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, दिए कई अहम निर्देश

साहित्य ज्योतिष

संजीव-नी।
संजीव-नीl
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।