सुल्तानपुर : कोटेदार की मनमानी खुलेआम कर रहे घटतौली

सुल्तानपुर : कोटेदार की मनमानी खुलेआम कर रहे घटतौली

जनपद सुल्तानपुर –मामला थाना अखंडनगर क्षेत्र के लोरपुर गांव से जुड़ा हुआ है जहां के कोटेदार नरेंद्रदेव सिंह दबंगई बस ग्रामवासी गरीब जनता को धमकाकर राशन वितरण में घट तौली कर रहे हैं कोटेदार की मनमानी से तंग आकर ग्राम वासियों का कहना है कि कोटेदार (नरेंद्र देव सिंह साहब) नहीं करते हैं जनता की

जनपद सुल्तानपुर –
मामला थाना अखंडनगर क्षेत्र के लोरपुर गांव से जुड़ा हुआ है जहां के कोटेदार नरेंद्रदेव सिंह दबंगई बस ग्रामवासी गरीब जनता को धमकाकर राशन वितरण में घट तौली कर रहे हैं कोटेदार की मनमानी से तंग आकर ग्राम वासियों का कहना है कि कोटेदार (नरेंद्र देव सिंह साहब) नहीं करते हैं जनता की भलाई लॉक डाउन में भी गरीब जनता पर कर रहे अत्याचार जनता ने उनसे तंग आकर जब हमारे पत्रकार को सूचना दी तो पत्रकारों की टीम पूछताछ करने के लिए कोटेदार के घर पर पहुंचे मौके पर कोटेदार के ना मौजूदगी में वह उसी ग्राम सभा के प्रधान ज़ी से मिले तब उनसे पूछताछ करने पर पता चला ।


कि कोटेदार की शिकायत प्रधान के यहां भी कई बार किया जा चुका है और प्रधान तत्काल सूचना सप्लाई अधिकारी को दिया लेकिन सप्लाई अधिकारी भी बात को टालते चले जा रहे हैं इस जानकारी को पुनः जब पत्रकार शरद उपाध्याय कोटेदार के घर पहुंचे तो कोटेदार के लड़के अंकित सिंह उर्फ छोटू पत्रकार को जान से मर डालने की धमकी देते हुए मारने के लिए दौड़ा लिया, जिसकी सूचना पत्रकार ने थाना अखंड नगर में दिया मामले में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया

लेकिन किसी की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हुई और कोटेदार पर राशन वितरण घट टौली के संबंध में कोई कार्यवाही नहीं की गई जबकि राशन को लेकर ग्रामीणों की यह समस्या कई वर्षों से चली आ रही है फिर स्वयं ही कल सप्लाई अधि कारी अर्चना सिंह शिकायत को नजर अंदाज करते हुए कहे कि हम कार्यवाही करेंगे लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही का पता नहीं चला है ।


कोटेदार का कहना है कि जब राशन हमारे यहां आ जाता है तो मेरी मर्जी से वितरण किया जाएगा ग्राम वासियों ने कहा कि कोटेदार का कहना होता है जिसको वह चाहेंगे राशन वितरित करेंगे अथवा नही यही सब बात सुनकर जब पत्रकार टीम गांव में पहुंची तब गांव जनों से पूछताछ करना चाहा पहले तो उसके खिलाफ कुछ लोग आवाज़ नहीं उठाना चाहे फिर कुछ महिलाएं एवं बुजुर्ग ने बताया कि यदि हम उसके खिलाफ बोलते हैं तो जो राशन हमको मिल रहा है वह भी नहीं देगा कोटेदार, कोटेदार की इस गुंडागर्दी को सुनकर पत्रकार टीम ने तो वहां के गरीब लोगों को पूरा राशन दिलाने का वादा किया जब लोगों को विश्वास हुआ और कहा कि कोटेदार चार-पांच दिन तक अंगूठा लगवा ता है फिर राशन धीरे-धीरे करके कई दिनों में वितरण करता है उसी बीच अगर कोई व्यक्ति देर से पहुंचे तो उसको राशन नहीं दिया जाता कोटेदार साहब प्रति यूनिट 4 किलो प्रति ग्राम का ही राशन देते हैं और अगर गांव में किसी की बेटी की शादी पड़ी है तो बिना राशन कार्ड में नाम काटने से पहले ही राशन देना बंद कर देते हैं और बताते हैं कि यह सब सरकारी आदेश के द्वारा किया जाता है,

स्वतंत्र प्रभात मीडिया से मुताबिक होते हुए ग्राम वासियों ने यह भी बताया कि उसके कांटे में भी घटतौली हो रही है और जैसे भी वह चाहता है वैसे ही राशन देता है और अभी आज तक भी नहीं हुआ है राशन वितरित केवल लगवाया गया है अंगूठा गांव वालों को प्रशासन से बहुत ही गुजारिश है कि वह इस बात को संज्ञान में लेते हुए सख्त से सख्त कार्यवाही करे लेकिन मामले को अभी तक संज्ञान नहीं लिया गया खबर चलने के बाद पूर्ति निरीक्षक अर्चना सिंह मौके पर पहुंचकर जांच की

लेकिन शिकायत कर्ता ने बताया की कोटेदार के पक्ष के कुछ लोगों को बुलाकर पूछताछ की और बिना किसी कार्यवाही किए ही चली गई जिससे कोटेदार की दबंगई को और अधिक बढ़ावा मिलता दिखाई दे रहा है जहां सूबे के मुखिया एक तरफ जनहित में भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के ऊपर तत्काल कार्यवाही करने की बात किया करते है वहीं पूर्ति निरीक्षक के द्वारा कोटेदार को बढ़ावा मिलता नजर आ रहा है शिकायत कर्ता ने जिलाधिकारी महोदय से उच्च अधिकारी द्वारा जांच कराने की मांग की है

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel