भदोही में लाॅकडाऊन के दौरान अनोखी शादी, बाइक से ससुराल गई दुल्हन।

भदोही में लाॅकडाऊन के दौरान अनोखी शादी, बाइक से ससुराल गई दुल्हन।

भदोही में लाॅकडाऊन के दौरान अनोखी शादी, बाइक से ससुराल गई दुल्हन। संतोष तिवारी (रिपोर्टर ) भदोही। सरकार भले ही लाॅकडाऊन-3 की घोषणा करके लोगो को कोविड-19 से लडने के लिए और मजबूती प्रदान कर रही है। और पूरा देश सरकार के फैसले को मान भी रहा है। और इस समय सामाजिक दूरी का पालन

भदोही में लाॅकडाऊन के दौरान अनोखी शादी, बाइक से ससुराल गई दुल्हन।

संतोष तिवारी (रिपोर्टर )

भदोही।

सरकार भले ही लाॅकडाऊन-3 की घोषणा करके लोगो को कोविड-19 से लडने के लिए और मजबूती प्रदान कर रही है। और पूरा देश सरकार के फैसले को मान भी रहा है। और इस समय सामाजिक दूरी का पालन करना ही कोविड-19 के बचाव का प्रमुख अस्त्र माना जा रहा है। लेकिन इसी दौरान कुछ ऐसे मामले सामने आ रहे है जो सरकार के निर्देश को मानते हुए समाज में एक मिशाल भी पेश कर रहे है।

एक ऐसा ही मामला ज्ञानपुर क्षेत्र के बालीपुर वार्ड नंबर नौ में देखने को मिला जहां के निवासी राम बहादुर पाल के पुत्र आशीष पाल की शुक्रवार को शादी थी। बारात पाली क्षेत्र के नागमलपुर गांव में गई थी। लॉकडाउन को देखते हुए बारात में केवल पांच लोग गए थे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते शादी की रस्म अदायगी की गई।

शनिवार को सुबह दूल्हा आशीष पाल ने बाइक से ही अपनी दुल्हन की विदाई कराकर घर ले आया। इस शादी की क्षेत्र की चर्चा है। वही लोग इस शादी को मिशाल के तौर पर देख रहे है। इस शादी के माध्यम से समाज में एक संदेश भी गया कि आज के समय में शादियों में हो रहे बेवजह खर्च को रोका जा सकता है। हालांकि यह तो लाॅकडाऊन के दौरान हुआ। वैसे यदि युवा आगे आये तो समाज में खर्चीली शादियों पर रोक लग सकती है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel