खुलेआम बिक रहे मीट मछलियों के खिलाफ डीएम की तनी भृकुटि

खुलेआम बिक रहे मीट मछलियों के खिलाफ डीएम की तनी भृकुटि

हिन्दू युवावहिनी के शिकायती पत्र पर संज्ञान लेते हुए मीट विक्रेताओं के खिलाफ थानाध्यक्ष को कार्यवाही के दिये निर्देश ब्यूरो रिपोर्ट -जयदीप शुक्ला तरबगंज,गोण्डा-स्थानीय लगने वाली अस्थायी बाजार में खुलेआम बिकने वाले मीट मछलियों के खिलाफ जिलाधिकारी ने सख्त कार्यवाही करने के आदेश थानाध्यक्ष को दिए हैं।बुधवार व शनिवार को लगने वाली बाजार में हजारों

हिन्दू युवावहिनी के शिकायती पत्र पर संज्ञान लेते हुए मीट विक्रेताओं के खिलाफ थानाध्यक्ष को कार्यवाही के दिये निर्देश

ब्यूरो रिपोर्ट -जयदीप शुक्ला

तरबगंज,गोण्डा-
स्थानीय लगने वाली अस्थायी बाजार में खुलेआम बिकने वाले मीट मछलियों के खिलाफ जिलाधिकारी ने सख्त कार्यवाही करने के आदेश थानाध्यक्ष को दिए हैं।
बुधवार व शनिवार को लगने वाली बाजार में हजारों की संख्या में पब्लिक अपने दैनिक उपभोग की सामिग्रीयों की खरीदारी करने जुटती है।
बाजार में ही खुलेआम मछलियों व मीट की लगने वाली दुकानों से काफी समस्याओं का सामना स्थानीय व आये हुए लोगों को करना पड़ता था।
बाजार के चारो तरफ पांच विद्यालय भी संचालित हो रहे हैं जिससे अभिभावकों बच्चों व प्रबंधकों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था।
इसके सम्बन्ध में स्वतंत्र प्रभात समाचार पत्र ने विशेष खबर भी चलाई थी।

खुलेआम बिक रहे मीट मछलियों के खिलाफ डीएम की तनी भृकुटि


उक्त समस्या व कोरोना वायरस की समस्या के दृष्टिगत हिंदू युवा वाहिनी के ब्लॉकध्यक्ष गोपाल सिंह व ध्रुव पांडे, जयप्रकाश वर्मा,सोनू गौतम,संजय पांडे,दीपू सिंह,रामकुमार सिंह,आलोक मिश्रा, शक्ति कुमार चक्रधारी दुर्गा बख्श व अन्य पदाधिकारीयों ने संयुक्त रूप से शिकायती पत्र जिलाधिकारी डॉक्टर नितिन बंसल को सौंपा।
जिसको संज्ञान में लेते हुए डीएम ने तत्काल मीट मछलियों की दुकानों को बंद करवाने का निर्देश थानाध्यक्ष राजनाथ सिंह को दिया।
उंन्होने मौखिक रूप से बताया अगर मीट मछलियों के विक्रेता नही मानते हैं तो उनके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही करें।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष