“जन समस्याओं के निस्तारण के प्रति गम्भीर रहें और इसमें उदासीनता एवं लापरवाही क्षम्य नही होगी”- जिलाधिकारी

“जन समस्याओं के निस्तारण के प्रति गम्भीर रहें और इसमें उदासीनता एवं लापरवाही क्षम्य नही होगी”- जिलाधिकारी

अमेठी। 17 मार्च मंगलवार को शासन के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद की चारों तहसीलों में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार की अध्यक्षता में तहसील गौरीगंज में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित हुआ। इस दौरान जिलाधिकारी ने लोगों की समस्याएं सुनी तथा संबंधित अधिकारियों को निस्तारण हेतु निर्देश दिए। संपूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी ने फरियादियों की

अमेठी।  17 मार्च मंगलवार को  शासन के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के अंतर्गत   जनपद की  चारों तहसीलों में  संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन  किया गया। जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार की अध्यक्षता में तहसील गौरीगंज में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित हुआ। इस दौरान जिलाधिकारी ने लोगों की समस्याएं सुनी तथा संबंधित अधिकारियों को निस्तारण हेतु निर्देश दिए। संपूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी ने फरियादियों की जन समस्या सुनकर मौके पर अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जो भी समस्याएं आती हैं उनका ससमय निस्तारण किया जाए तथा कोई भी शिकायत लंबित न रखी जाये, शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाये। उन्होंने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में राजस्व विभाग की सबसे ज्यादा शिकायतें आई हैं जिसमें अवैध कब्जा, नाली, खड़ंजा व बिजली विभाग से सबंधित शिकायतें प्राप्त हुई हैं उन्होंने लेखपालों को निर्देश दिए कि गांव में जाकर निरंतर भ्रमण कर अवैध कब्जा सहित छोटे-मोटे विवाद निपटाएं। 

         जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिये कि ग्रामीणों के शिकायती पत्र प्राप्त होते ही तुरन्त कार्रवाई अमल में लाई जायें ताकि तत्समय मौके पर ही निस्तारण किया जा सके।  जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जन सामान्य के कल्याणार्थ संचालित विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र लोगों को दिया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा शासन द्वारा संचालित योजनाएं पात्र व्यक्ति तक अवश्य पहुंचनी चाहिए। 

          तहसील गौरीगंज में कुल 94 शिकायतें प्राप्त हुई जिसमें मौके पर 6 का निस्तारण किया शेष शिकायतों को गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण के लिए पुलिस एवं राजस्व की 1 संयुक्त टीमें भेजी गई।  इसी क्रम में तहसील अमेठी में 58 शिकायतें प्राप्त हुई जिनमें से 2 का मौके पर निस्तारण किया गया ,शेष शिकायतों को गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण के लिए पुलिस एवं राजस्व की 2 संयुक्त टीमें भेजी गई। तहसील मुसाफिरखाना में 105 शिकायतें दर्ज की गई जिनमें 2 का निस्तारण किया गया। तहसील तिलोई  में 46 शिकायतें प्राप्त हुई जिनमें 4 शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया, शेष शिकायतों को गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण के लिए पुलिस एवं राजस्व की 2 संयुक्त टीमें भेजी गई। 

          जिलाधिकारी ने कहा कि शासन जन समस्याओं के निस्तारण के प्रति अत्याधिक गम्भीर है और इसमें उदासीनता एवं लापरवाही क्षम्य नही होगी।  उन्होंने समस्त अधिकारियों निर्देश दिए कि अपने-अपने कार्यालय समय से पहुंचे व जन समस्याएं सुनकर उनका निस्तारण करना सुनिश्चित कराएं। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डा. ख्याति गर्ग, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आर.एम. श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी गौरीगंज, परियोजना निदेशक आशुतोष दुबे,  प्रभागीय वनाधिकारी यू.पी. सिंह, तहसीलदार गौरीगंज सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष