सिंचाई के लिए नहर में पानी छोड़ने के लिए किसानों ने डीएम से की माँग

सिंचाई के लिए नहर में पानी छोड़ने के लिए किसानों ने डीएम से की माँग

नहर में पानी न पहुंचने से किसानों की हजारों बीघा की लहलहाती फसलें सूख रहीं गहरा-महोबा:- पिछले एक दशक से बुंदेलखंड का किसान सूखा व दैवीय आपदा की मार झेल रहा है लेकिन इस वर्ष समय से वर्षा होने के कारण किसानों की फसलें अच्छी है लेकिन अब सिंचाई विभाग की उदासीनता के कारण किसानों

नहर में पानी न पहुंचने से किसानों की हजारों बीघा की लहलहाती फसलें सूख रहीं

गहरा-महोबा:-

 पिछले एक दशक से बुंदेलखंड का किसान सूखा व दैवीय आपदा की मार झेल रहा है लेकिन इस वर्ष समय से वर्षा होने के कारण किसानों की फसलें अच्छी है लेकिन अब सिंचाई विभाग की उदासीनता के कारण किसानों की फसलें पानी न मिलने के कारण सूख रही है।

आज शुक्रवार को कबरई विकास खण्ड के गहरा गांव के लगभग आधा सैकड़ा किसान नहर में पानी छोड़ने की मांग को लेकर महोबा जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया जिसमें किसानों द्वारा कहा गया कि इस वर्ष पर्याप्त वर्षा होने से फसलें अच्छी है लेकिन नहर में पानी न होने से किसानों की गेंहू की फसल पूरी तरह से सूख रही है अगर समय से नहर में पानी नही पहुंचा तो हमारी फसलें पूरी तरह बर्बाद हो जाएंगी

जिसका जिम्मेदार सिचाई विभाग होगा।गहरा प्रधान पति अर्जुन सिंह के नेतृत्व में गांव के लगभग आधा सैकड़ा किसान कलेक्ट्रेट पहुंचे जहाँ उन्होंने चंद्राबल बांध से निकली पिडारी रजबहा नहर में पानी छोड़ने की मांग की।ज्ञापन देने में रामस्वरूप, चुनूबाद,रामबाबू, राजू,राजेश,रामनाथ,छोटे, मैकू,माहेश्वरी दीन,छत्रपाल सिंह, कमला, झंडू,रामआसरे सहित आधा सैकड़ा किसान रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel