आखिरकार पालिका ने अवैध माँस की दुकानों को हटाया

आम जनता को हो रही थी परेशानी ललितपुर। आखिर नगर पालिका ने रविवार को सडक़ किनारे लगी माँस की दुकानें हटाने का कदम उठाया है। लम्बे अर्से से नगरवासी इन दुकानों को हटाये जाने की मांग कर रहे थे। किन्तु पालिका प्रशासन को नम्बर दो कमाई से फुर्सत ही नहीं थी। जब इसकी शिकायत जिला


आम जनता को हो रही थी परेशानी
ललितपुर। आखिर नगर पालिका ने रविवार को सडक़ किनारे लगी माँस की दुकानें हटाने का कदम उठाया है। लम्बे अर्से से नगरवासी इन दुकानों को हटाये जाने की मांग कर रहे थे। किन्तु पालिका प्रशासन को नम्बर दो कमाई से फुर्सत ही नहीं थी। जब इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की गयी, साथ ही मण्डलायुक्त को जनपद में रात्रि विश्राम करना था, पालिका यह कदम उठाया है।
नगर पालिका क्षेत्र में सडक़ के किनारे अवैध रूप से माँस की दुकाने खोली गयी है, कसाई मण्डी व पानी की टंकी के पास यह दुकानें संचालित की जा रही हैं। इन दुकानों से आम आदमी को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता था। किन्तु पालिका इस ओर ध्यान ही नहीं दे रही थी, पालिका प्रशासन से लोगों ने कई बार इन दुकानों को सार्वजनिक स्थल से हटाने की माँग की गयी। लेकिन पालिका ने लोगों की शिकायतों पर गौर नहीं किया, इसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों से इसकी शिकायत की गयी। इसके बाद पालिका ने वहाँ की दुकानें हटाने का निर्णय लिया। पालिका शाम को पालिका प्रशासन ने पानी टंकी के पास का अतिक्रमण हटाया।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष