पालिका: पार्षद ने वार्ड की दुर्दशा के चलते दी इस्तीफा की चेतावनी

पालिका: पार्षद ने वार्ड की दुर्दशा के चलते दी इस्तीफा की चेतावनी

ईओ व पालिका प्रशासन को ठहराया जिम्मेदार ललितपुर। नगर पालिका में फैले भ्रष्टाचार के कारण नगर का विकास अवरूद्ध हो रहा है, पालिका के इसी कार्यप्रणाली तंग आकर एक पार्षद ने क्षेत्र की दशा शीघ्र न सुधारने की कहते हुये पालिका प्रशासन को इस्तीफे की धमकी दी है। अधिशाषी अधिकारी सौंपे पत्र में क्षेत्र के


ईओ व पालिका प्रशासन को ठहराया जिम्मेदार
ललितपुर। नगर पालिका में फैले भ्रष्टाचार के कारण नगर का विकास अवरूद्ध हो रहा है, पालिका के इसी कार्यप्रणाली तंग आकर एक पार्षद ने क्षेत्र की दशा शीघ्र न सुधारने की कहते हुये पालिका प्रशासन को इस्तीफे की धमकी दी है। अधिशाषी अधिकारी सौंपे पत्र में क्षेत्र के हालत व्यान किये हैं, साथ पूर्व में अध्यक्ष द्वारा निरीक्षण के पश्चात आदेशों का जिक्र किया है।
वर्तमान पालिका में फैले भ्रष्टाचार के चलते शहर की हालत बहुत ही खराब हो चुकी है। जिसमें वार्ड नम्बर 16 की हालत तो और भी खराब है। जिसके लिए मोहल्लेवासी काफी दिनों से ज्ञापन दे रहे हैं। तो वहीं पार्षद के ऊपर भी क्षेत्रवासी तरह-तरह के आरोप प्रत्यारोप लगाने लगे हैं। क्योंकि पूरा शहर पालिका में फैले भ्रष्टाचार चिरपरिचित हो चुकी है। इसलिए पार्षद के भी इस भ्रष्टाचार शामिल होने चलते शायद क्षेत्र का विकास न हो रहा हो। ऐसी दशा में पार्षद ने अधिशाषी अधिकारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि पालिका अधिशाषी अधिकारी व पालिका में तैनात लिपिकों पर लापरवाही के चलते क्षेत्र की दुर्दशा हुई है। साथ ही उन्होंने क्षेत्र में जलभराव व उखड़ी सडक़ों के लिए भी पालिका प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। पार्षद ने अधिशाषी अधिकारी दिये पत्र में बताया कि क्षेत्र की दुर्दशा वर्षों से है। इस विषय में मोहल्लेवासी भी कई बार पालिका में ज्ञापन दे चुके हैं। साथ ही पत्र में पूर्व में अध्यक्ष के द्वारा वार्ड निरीक्षण के दौरान सडक़ों की हालत सुधारने के आदेशों का हवाला दिया है। बताते चलें कि अध्यक्ष ने वार्ड के निरीक्षण के समय सिर्फ एक विशेष ठेकेदार के कार्य देखे थे। यह जानकारी पालिका प्रशासन को भी थी, इसलिए उक्त ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही के अलावा अन्य किसी आदेशों का पालन नहीं किया गया था। पार्षद द्वारा उसी निरीक्षण का हवाला दिया गया है। हालाँकि पालिका में अध्यक्ष की अनदेखी का कहीं आरोप नहीं लगाया गया है। साथ पार्षद द्वारा वोर्ड बैठक में भी क्षेत्र में विकास का मुद्दा उठाया है। ऐसे में अचानक अधिशाषी अधिकारी के ऊपर आरोप लगाते हुये, इस्तीफे की चेतावनी दे डाली। अब देखना यह है कि पार्षद की चेतावनी का पालिका प्रशासन पर कितना फर्क पड़ता है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

अंतर्राष्ट्रीय

चीन में बढे कोरोना संक्रमण के मामले, सरकार ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया चीन में बढे कोरोना संक्रमण के मामले, सरकार ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया
स्वतंत्र प्रभात  चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा दिया गया है।...

Online Channel