ब्लॉक स्तर के अधिकारियों नगर क्षेत्रों में नगर पंचायत व नगर पालिका परिषद को दी जिम्मेदारी

ब्लॉक स्तर के अधिकारियों नगर क्षेत्रों में नगर पंचायत व नगर पालिका परिषद को दी जिम्मेदारी

ब्लॉक स्तर के अधिकारियों नगर क्षेत्रों में नगर पंचायत व नगर पालिका परिषद को दी जिम्मेदारी


स्वतंत्र प्रभात-
 

त्रिवेदीगंज बाराबंकी

 ऑनलाइन जन्म, मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने वाले आवेदकों पर अफसरों की लापरवाही भारी पड़ रही है। अधिकारी आफिशियल साइट लॉक होने का हवाला देकर आवेदनकर्ताओं से महीनों चक्कर लगवा रहे हैं। मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदन के बावजूद कई सप्ताह बीतने पर फीडिंग भी नही हो पाई है। आवेदनकर्ता ने जिम्मेदार अफसरों पर कार्यवाही करने की मांग की है। दरअसल जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र को आसानी से बनवाने सरकार ने crsorgi.gov.in साइट पर आनलाइन आवेदन करने की सुविधा दे रखी है। जिसके लिए ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लॉक स्तर के अधिकारियों नगर क्षेत्रों में नगर पंचायत व नगर पालिका परिषद को जिम्मेदारी दी गई है। लेकिन आवेदन के महीनो बीतने के बाद भी लापरवाह अफसर आवेदन कर्ता फार्म की फीडिंग तक नही कर सके।

महीनों इंतजार के बाद नही मिला प्रमाण पत्र

आवेदनकर्ता के अनुसार त्रिवेदीगंज ब्लाक के मोहम्मदपुर गांव के निवासी 56 वर्षीय प्रेम सागर मिश्र का बीते 27 अप्रैल को निधन हो गया था। जिनके परिजन विवेक मिश्रा ने मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ब्लॉक त्रिवेदी गंज में आवेदन किया था। जिसके बाद खंड विकास कार्यालय त्रिवेदीगंज के कई चक्कर लगाने पड़े, लेकिन एक महीने बीतने के बाद भी मृत्यु प्रमाण पत्र नही बन पाया।आवेदनकर्ता से ब्लॉक के अधिकारी साइट लॉक होने का हवाला देकर बाद में आने का आश्वासन देते रहे।

अधिकारी देते रहे आश्वासन

जिला मुख्य विकास अधिकारी (CDO) एकता सिंह ने गुरुवार को बताया की जन्म, मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने की जिम्मेदारी ब्लॉक के अधिकारियों की है मामला संज्ञान में नहीं है। प्रमाण पत्रों के जारी होने में देरी के संबंध में ब्लॉक के अफसरों से जानकारी ली जाएगी। वहीं जिला सहायक विकास अधिकारी (एडीओ पंचायत) आनंद सिंह ने बताया कि मैं अभी प्रशिक्षण में व्यस्त हूं, उन्होंने बताया कि ब्लॉक स्तर से दो ग्राम पंचायतों में टेक्निकल समस्या बनी हुई है। वरिष्ठ अफसरों से शिकायती पत्राचार्य किया गया है जल्द ही समस्या का निस्तारण किया जाएगा।

त्रिवेदीगंज ब्लाक में तैनात खण्ड विकास अधिकारी (BDO) शंभू शरण ने बताया कि तकनीकी कारणों से एक गांव की साइट लॉक हो गई है। संभवतः पंचायत सचिव के गलत पासवर्ड डालने से वेब साइट लॉक है। बीडीओ ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में है खराबी को दूर करने के लिए एन आई सी (NIC) को पत्र माध्यम से जानकारी भेजी गई है, जल्द ही समस्या को दूर किया जाएगा।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel