आज की सबसे बड़ी खबर : केंद्र सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर भी बैन लगाया

आज की सबसे बड़ी खबर : केंद्र सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर भी बैन लगाया

टिकटॉक, हेलो, लाइकी समेत 59 चीनी एप पर भारत सरकार ने लगाया बैन भारत-चीन के बीच सीमा पर तनाव के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. भारत सरकार के आईटी मंत्रालय ने 59 चाइनीज एप पर रोक लगाने का फैसला लिया है. भारत सरकार की तरफ से बैन किए गए एप में मशहूर

टिकटॉक, हेलो, लाइकी समेत 59 चीनी एप पर भारत सरकार ने लगाया बैन

भारत-चीन के बीच सीमा पर तनाव के बीच केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. भारत सरकार के आईटी मंत्रालय ने 59 चाइनीज एप पर रोक लगाने का फैसला लिया है. भारत सरकार की तरफ से बैन किए गए एप में मशहूर टिकटॉक एप भी शामिल है. इसके अलावा यूसी ब्राउजर, कैम स्कैनर जैसे और भी बहुत मशहूर एप शामिल हैं. इससे पहले भारतीय सुरक्षा एजेंसियों से चीनी एप की एक लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार से प्रतिबंध लगाने की अपील की थी.

आज की सबसे बड़ी खबर : केंद्र सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर भी बैन लगाया

सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार से अपील की थी कि लोगों से कहा जाए कि इन चीनी एप को तुरंत अपने मोबाइल से हटा दें. इसके पीछे दलील ये दी गई थी कि चीन भारतीय डेटा हैक कर सकता है. भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रह से भरे इन एप पे प्रतिबंध लगाने का फैसला किया गया है. इन एप में टिक टॉक और लाइकी के साथ शेयर इट, यूसी ब्राउजर, कवाई, क्लैश ऑफ़ किंग, डीयू बैटरी सेवर, यूकैम मेकअप,

मी कम्युनिटी, सीएम ब्राउजर, वायरस क्लीनर एप्स, ब्राउज़र रोमनी, क्लब फैक्ट्री, न्यूज़ डॉग, ब्यूटीप्लस, वीचैट, यूसी न्यूज़, क्यूक्यू मेल, विवो जेंडर, क्यू क्यू म्यूजिक, क्यू क्यू न्यूज़ फीड, बिगो लाइव, सेल्फीसिटी, मेल मास्टर पार्लर स्पेस मी वीडियो कॉलिंग विवाह वीडियो मी टू विगो वीडियो न्यू वीडियो स्टेटस वीडियो रिकॉर्डर कैसे क्लीनर डी यू एस स्टूडियो क्लीनर ब्राउज़र प्ले कैमस्कैनर क्लीन मास्टर चीता मोबाइल कैमरा स्वीट सेल्फी ट्रांसलेट इनटू इंटरनेशनल सिक्योरिटी एप्स

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel