अग्रेजी शराब की दुकानो के सामने शाम लगा रहता जमावड़ा-

अग्रेजी शराब की दुकानो के सामने शाम लगा रहता जमावड़ा-

मोहनलालगंज लखनऊ आबकारी विभाग के अधिकारी नियम कानून को ताक पर रखकर सरकारी खजाना भरने में लगे हैं राज धानी लखनऊ मोहनलालगंज कस्बे में नियमों को ताक पर रखकर शराब की दुकानें खोली जा रही हैं। जिसकी शिकायत स्थानीय लोगों ने कई बार प्रशासनिक अधिकारियों से की शाम होते ही अग्रेजी शराब की दुकानो के

मोहनलालगंज लखनऊ

आबकारी विभाग के अधिकारी नियम कानून को ताक पर रखकर सरकारी खजाना भरने में लगे हैं राज धानी लखनऊ मोहनलालगंज कस्बे में नियमों को ताक पर रखकर शराब की दुकानें खोली जा रही हैं। जिसकी शिकायत स्थानीय लोगों ने कई

बार प्रशासनिक अधिकारियों से की शाम होते ही अग्रेजी शराब की दुकानो के सामने जमावड़ा लगा रहता है आने जाने वाली महिलाओ से छींटाकशी भी किया करते है लेकिन वही जिम्मेदार अधिकारी मूकदर्शक बने हुए हैं। नियमो को ताक पर रखकर

शराब का ठेका खुल गया शराब ठेका खुलने से बच्चों पर इसका कितना विपरीत असर पड़ेगा लेकिन बड़े-बड़े रसूखदार लोगों के दबाव में प्रशासन नतमस्तक है फिर चाहे किसी की धार्मिक भावनाएं आहत हों या बच्चों और युवकों के मन पर विपरीत

असर पड़े। विभाग के अधिकारियों न तो मंदिर-मस्जिद की परवाह है और न ही अस्पतालों और शिक्षण संस्थानों की।आबकारी नियम के तहत धार्मिक स्थल, स्कूल, लाइब्रेरी, मंदिर, हॉस्पिटल से बार, शराब, भांग, बीयर की दुकान कम से कम 50 मीटर

दूर हो। पहले यह दूरी उपरोक्त स्थानों से 100 मीटर थी। नियम के तहत मलिन बस्ती में शराब की दुकान नहीं खुलेगी, लेकिन मोहनलालगंज में इन सब नियमों को ताक पर रख कर शराब की दुकानें चलाई जा रही हैं। बड़े-बड़े रसूखदारो के आगे प्रशासन पूरी तरह से नतमस्तक है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel