बोर्ड परीक्षा में कम नंबर आने से आहत हाईस्कूल की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान 

बोर्ड परीक्षा में कम नंबर आने से आहत हाईस्कूल की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान 

स्वतंत्र प्रभात
लखनऊ।
 
सरोजनीनगर कोतवाली के अर्न्तगत रहीमाबाद में एक चौकाने वाली घटना सामने आई है जिसमे एक हाईस्कूल की छात्रा ने महज इस लिए फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली कि उसके बोर्ड परीक्षा में अंको का प्रतिशत उसके मन मुताबिक नही था।बेटी के इस कदम ने पूरे परिवार को झकझोर कर रख दिया है। माता पिता का रो रो कर बुरा हाल है।पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिजनों को सौंप दिया।
 
रमेश कुमार सिहं जो कि मूलतः बलिया के निवासी हैं ने रहीमाबाद क्षेत्र में मकान का निर्माण कराकर अपना जीवन व्यतीत करते हुए बच्चों को शिक्षित बनाने में अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। रविवार को शाम 5.00 बजे वह अपने बेटे के लिए किताबें व ड्रेस खरीदने के लिए अपनी पत्नी व बेटे संग निकलें थे। रमेश सिहं खरीददारी करके जब साँय 8.00 बजे अपने घर वापस आये तो गेट खोलने के लिए अपनी 15 वर्षीय बेटी आकांक्षा सिहँ को कई बार आवाज लगायी, परन्तु अन्दर से कोई हलचल न होने पर उनकी बेचैनी बढ़ने लगी।
 
रमेश ने बगल के घर में जब बेटी के बारे में जानकारी की तो कोई जानकारी नहीं मिली। किसी बड़ी अनहोनी की आशंका में वह उनकी छत पर चढकर, किसी तरह अपने घर में पहुंचे और पीछे के कमरे तक आवाज लगाते हुए जैसे ही दरवाजा खोलकर अन्दर का नजारा देखा तो वह भौचक्क रह गये। आकाँक्षा गले में दुपटटा बाँधकर पंखे से मृत अवस्था में लटकी हुई थी। यह देखकर रमेश सिहं रोते चिल्लाते गेट खोलकर पत्नी को अन्दर ले गये । पड़ोसियों की मदद से किसी तरह  बेटी को जब नीचे उतारा तो उसकी साँसे रुक चुकीं थी ।
 
आकाँक्षा सिहं, गौतम बुद्ध विद्यालय, बिजनौर रोड़ में कक्षा 10 की छात्रा थी। वह हाईस्कूल बोर्ड परीक्षाफल में 55% अंक प्राप्त करने पर बहुत ही मायूस थी, मातापिता ने काफी समझाया कि आगे और मेहनत करने पर अच्छा रिजल्ट आयेगा । इन्टरमीडियट की तैयारी अभी से शुरु कर दो। परन्तु आकाँक्षा के अन्दर न जाने क्यों अपनी मर्जी के अनुसार परीक्षाफल न आने पर बेचैनी बढने लगी, जिससे उसने अपने हाथों अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। 
 
प्रभारी निरीक्षक, सरोजनीनगर शैलेन्र्द गिरि को जब सूचना प्राप्त हुई तो उपनिरीक्षक अर्जुन राजपूत व शिव प्रताप के साथ मयफोर्स तत्काल घटनास्थल पर पहुँचे, मृतका के कमरे की गहन जाँच करने के साथ ही माता पिता व पड़ोसियों से भी पूछताछ करने के बाद उन्होंने शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। पुलिस ने  पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनौं को सौंप दिया गया । जिसे आलमबाग नहर पर स्थित शमशान घाट में अन्तिम सँस्कार कर दिया गया ।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष