चार से पाँच दिन तक पुलिस ने कोतवाली का लगवाया चक्कर, नहीं लिखा मुकदमा

चार से पाँच दिन तक पुलिस ने कोतवाली का लगवाया चक्कर, नहीं लिखा मुकदमा

दरोगा व सिपाही ने सादे पेपर पर कराया था सुलह समझौता 
 
 
पुलिस अधीक्षक के हस्तक्षेप के बाद कोतवाली पुलिस ने गंभीर धाराओं में दर्ज किया मुकदमा
 
 
अंबेडकरनगर।
 
दलित परिवार के साथ मारपीट के मामले में पहले तो अकबरपुर कोतवाली पुलिस ने चार से पांच दिन तक शिकायती पत्र देने के बाद दौड़ाती रही बाद में दरोगा संजय यादव व हल्का सिपाही आनंद यादव के द्वारा सादे पेपर पर साइन करवा कर जबरन समझौता करने के मामले में पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस अधीक्षक के आदेश के बाद अकबरपुर कोतवाली पुलिस ने दो नामजद आरोपियों के खिलाफ प्राण घातक हमला, मारपीट,गाली गलौज, एससी एसटी के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।
 
अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत सुरसावा निवासी अनिल कुमार पुत्र स्वर्गीय राजेंद्र प्रसाद का आरोप है उसकी बकरी बीते 10 अप्रैल की शाम करीब 4:00 बजे विपक्षी मोहम्मद आरिफ मोहम्मद इरशाद पुत्रगण मोहम्मद हकीम निवासी मीरानपुर पेवाड़ा के खेत में चली गई। जिस पर विपक्षी गणों ने गाली गलौज देने लगे जिस पर उसकी बुआ पियारी देवी द्वारा जब विरोध किया गया तो आरोप है आरोपी उसकी बुआ के गर्दन पर लाठी डंडे से मारने पीटने लगे जिससे उसकी बुआ बेहोश होकर गिर गई।
 
हल्ला गुहार होने पर घर में मौजूद पीड़ित व अन्य लोग जब दौड़े तो आरोपियों द्वारा अंतिम, उर्मिला तथा शिवपूजन को डंडा पटरी तथा लात घूसों से मारने पीटने लगे। उक्त मारपीट में शिव पूजन के पैर की दो उंगली फट गई तथा पीड़ित के सर में दो स्थानों पर चोट आने के कारण उसका सर फट गया। मारपीट के दौरान अंतिमा का कपड़ा फट गया तथा अन्य लोगों को गंभीर चोटें आई। हल्ला गुहार होने पर आरोपियों द्वारा जाति सूचक शब्दों का प्रयोग किया गया। तथा जान से मार डालने की धमकी देते हुए चले गए।आरोप है पीड़ित ने उसी दिन स्थानीय कोतवाली अकबरपुर में शिकायती पत्र दिया था 4 से 5 दिन थाने पर दौड़ाने के पश्चात कोई कार्रवाई नहीं की गई। साथ ही दरोगा संजय यादव सिपाही आनंद यादव के द्वारा जबरन समझौता भी सादे पेपर पर करवा दिया गया था।
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष