जिगनाही गांव में लगी भीषण आग, 10 परिवारों की संपूर्ण गृहस्थी जलकर राख

जिगनाही गांव में लगी भीषण आग, 10 परिवारों की संपूर्ण गृहस्थी जलकर राख

मिल्कीपुर अयोध्या। मिल्कीपुर तहसील क्षेत्र के खण्डासा थाना क्षेत्र स्थित जिगनाही जंगल में लगी भीषण आग की चपेट में आकर जंगल से तीन दिशा में घिरे जिगनाही गांव के 10 परिवारों की संपूर्ण गृहस्थी जलकर नष्ट हो गई है। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की 5 गाड़ियां आग बुझाने में जुटी रही, तब जाकर  बेकाबू आग पर काबू पाया जा सका।

 प्राप्त जानकारी के मुताबिक बुधवार को दोपहर करीब 12 बजे अचानक जिगनाही गांव के जंगल में भीषण आग लग गई। आग इतनी जबरदस्ती आज इतनी जबरदस्त थी कि देखते ही देखते लगभग 3 किलोमीटर दूर में फैल गई।
 तेज हवा के झोंकों के बीच अग्नि देवता ने अपना विकराल रूप धारण करते हुए जिगनाही गांव के  10 घरों को भी अपने आगोश में ले लिया और आग से दस परिवारों की संपूर्ण गृहस्थी जलकर राख हो गई। अग्निकांड की जानकारी पाकर अग्निशमन प्रभारी मिल्कीपुर प्रदीप कुमार पांडे, फायर कर्मी रमाशंकर सिंह, हरेंद्र पटेल, रामप्रसाद, हृदय राम विश्वकर्मा, दिनेश मिश्रा और संदीप भट्ट, विकास यादव की टीम के साथ फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां लेकर मौके पर पहुंच गए।
 किंतु बेकाबू आग को बुझाने में सफलता न मिलने देख उन्होंने फायर ब्रिगेड की तीन और बड़ी गाड़ियां मंगाई।

पानी की व्यवस्था न होता देख अग्निशमन प्रभारी ने स्वयं अपने पास से 5 सौ रूपए देकर पंपसेट चलाई जाने हेतु डीजल मंगवाया। इसके बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ियां आग बुझाने में लग गई। अग्निकांड में सुखराम मौर्य, काशीराम, विश्राम, मनोज कुमार, अमेरिका प्रसाद, अभय, पप्पू मौर्य, कमलेश, राम आशीष और विनोद कुमार की संपूर्ण गृहस्थी जलकर नष्ट हुई है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष