राष्ट्रीय ऊर्जा तथा पर्यावरण संरक्षण में अपने ही पिछले वर्ष का रिकार्ड तोड़ा। 

राष्ट्रीय ऊर्जा तथा पर्यावरण संरक्षण में अपने ही पिछले वर्ष का रिकार्ड तोड़ा। 

स्वतंत्र प्रभात।
ब्यूरो प्रयागराज।
इफको के प्रबंध निदेशक डॉ उदय शंकर अवस्थी के कुशल मार्गदर्शन में इफको फूलपुर इकाई में गत वित्तवर्ष 2023-24 में नए कीर्तिमान स्थापित हुए। यूरिया-I संयंत्र में अब तक की सबसे कम वार्षिक ऊर्जा का खपत 5.818 गीगा कैलरी/मीट्रिक टन के अपने पिछले न्यूनतम रिकार्ड वर्ष 2020-21 में 5.820 गीगा कैलरी/मीट्रिक टन से भी कम रहा।
 
यूरिया-II संयंत्र में अब तक की सबसे कम वार्षिक ऊर्जा का खपत 5.132 गीगा कैलरी/मीट्रिक टन अपने पिछले न्यूनतम  रिकार्ड वर्ष 2022-23 में 5.134 गीगा कैलरी/मीट्रिक ऊर्जा का खपत टन से भी कम रहा, जबकि पूरे इफको फूलपुर संयंत्र का 5.386 गीगा कैलरी/मीट्रिक टन का अपने  पिछला न्यूनतम रिकार्ड 2022-23 में 5.398 गीगा कैलरी/मीट्रिक टन से भी कम रहा।
एक तरफ यह राष्ट्रीय ऊर्जा का संरक्षण है तथा पर्यावरण की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही लगभग 32 करोड़ रुपये सीधा देश का राजस्व बचत है। 
यूरिया प्लांट का उत्पादन अपने निर्धारित लक्ष्य 18.35 लाख मीट्रिक टन के सापेक्ष 19 लाख मीट्रिक टन रहा जोकि अपने क्षमता का लगभग 110 प्रतिशत है । 
 
गत वित्तवर्ष में इफको फूलपुर इकाई को विभिन्न क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कार प्राप्त हुए।
 
इस वर्ष न्यूनतम ऊर्जा खपत के साथ रिकार्ड उत्पादन पर वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक (इकाई प्रमुख) संजय कुदेशिया को इस सफलता पर इफको ऑफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अनुराग तिवारी व महामंत्री स्वयम् प्रकाश, इफको इम्पलाइज यूनियन के अध्यक्ष पंकज पाण्डेय व महामंत्री विनय यादव ने बधाई दिया। यह जानकारी नए जन संपर्क अधिकारी स्वयं प्रकाश ने एक विज्ञप्ति में दी।
 
     

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष