इंडिया गठबंधन भ्रष्टाचार और घोटालों का काला धब्बाः राज्यमंत्री

- भाजपा कार्यालय में हुआ पत्रकार वार्ता का आयोजन

इंडिया गठबंधन भ्रष्टाचार और घोटालों का काला धब्बाः राज्यमंत्री

स्वतंत्र प्रभात 

बांदा। इंडिया गठबंधन द्वारा दिल्ली के रामलीला मैदान में की गई रैली को लेकर भाजपा द्वारा मंगलवार को जिला भाजपा कार्यालय में भाजपा द्वारा प्रेस वार्ता करते हुए इंडिया गठबंधन के हर चेहरे को भष्टाचार और घोटालों का काला धब्बा बताते हुए गठबंधन को ठगबंधन करार दिया।

भाजपा जिला अध्यक्ष संजय सिंह की अध्यक्षता में आयोजित पत्रकार वार्ता में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित प्रदेश सरकार के जलशक्ति राज्य मंत्री रामकेश निषाद ने अपने सम्बोधन में कहा कि हम सभी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में भ्रष्टाचार के भाईचारे की खुली दूकान देखी। हमने देखा कि भ्रष्टाचारी किस घमंड से अपने भ्रष्टाचार को सही साबित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि “भ्रष्टाचार हटाओ“, मगर इंडिया गठबंधन के नेता कहते हैं कि भ्रष्टाचारी  को बचाओ।

उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन के नेता प्रधानमंत्री मोदी जी पर चाहे जितने भी हमले कर लें, मोदी जी रुकने वाले नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी के लिए देश की 140 करोड़ जनता उनका परिवार है और मोदी जी अपने परिवार को भ्रष्टाचारियों से बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। जिसने देश को लूटा है, उसे लौटाना ही पड़ेगा। इंडिया गठबंधन घोटालेबाजों की बारात है जहां सब देश को लूटना चाहते हैं और यह भी चाहते हैं कि उनके भ्रष्टाचार पर चर्चा न हो।

आम आदमी पार्टी कहती है कि केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में यह रैली हो रही, जबकि कांग्रेस कहती है कि यह किसी व्यक्ति के समर्थन में नहीं बल्कि पूरे गठबंधन की रैली है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दिल्ली में तो इलू इलू कर रही है लेकिन पंजाब में “हम आपके हैं कौन“ हो रहा है। पश्चिम बंगाल में ममता ने साथ में लड़ने से इंकार कर दिया है। इंडिया गठबंधन के पार्टनर सपा के भ्रष्टाचार को देश भली भांति जानता है और इनके परिवारवाद से पीड़ित उत्तर प्रदेश की जनता इन्हें कभी भुला नहीं सकती।

वहीं कांग्रेस पर आकाश से लेकर पाताल तक और आजादी से लेकर आज तक घोटाले ही घोटाले के आरोप हैं। इनका शीर्ष नेतृत्व 5000 करोड़ रुपए के घोटाले में जेल से बेल पर चल रहा है।विपक्षी पार्टियों का भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार बन गया है। मामला कोर्ट में हो तब भी इन्हें चिल्लाना है। कोर्ट में दलीलें काम नहीं आती तो बाहर हो हल्ला मचाते हैं। सनातन धर्म और रामचरित मानस पर आपत्तिजनक टिप्पणी करना इनकी सेकुलर परिभाषा बन चुकी है।

अपने नाम में समाजवादी लेकर चलने वाली इस पार्टी के शीर्ष नेता को समाज और जनता नहीं सिर्फ अपने परिवार की चिंता है। निषाद ने आम आदमी पार्टी से पूछा कि शराब घोटाले में कोर्ट उनके नेताओं को जमानत क्यों नहीं दे रहा। जब 9 बार समन गया तो केजरीवाल पेश क्यों नहीं हुए ? क्या वे यह चाहते थे कि जानबूझ कर मामला चुनाव तक जाए और वे गिरफ्तारी पर विक्टिम कार्ड खेल सकें।

जिला मीडिया प्रभारी आनन्द स्वरूप द्विवेदी के संचालन में आयोजित प्रेस वार्ता में जिला पंचायत अध्यक्ष सुनील पटेल, बांदा-चित्रकूट लोकसभा चुनाव संयोजक बालमुकुंद शुक्ला, जिला उपाध्यक्ष डा. धर्मेन्द्र त्रिपाठी, निर्वाचन संबंधी मामलों के जिला संयोजक उत्तम सक्सेना, सोशल मीडिया जिला संयोजक निखिल सक्सेना, कार्यालय प्रभारी दिलीप तिवारी,धीरेंद्र सिंह धीरू उपस्थित रहे।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष