झोपड़ी में रहने को मजबूर गरीब परिवार नहीं मिला प्रधानमंत्री आवास

झोपड़ी में रहने को मजबूर गरीब परिवार नहीं मिला प्रधानमंत्री आवास

स्वतंत्र प्रभात 
बेहजम खीरी। बेहजम ब्लॉक के लौका  ग्राम पंचायत के लौका गांव में कई वर्षों से एक गरीब परिवार झोपड़ी में रहने को विवश है। इतना ही नहीं बरसात के दिनों में छप्पर से जब पानी टपकने लगता है। तब परिवार के लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जानकारी के अनुसार शिव देवी पत्नी नवीन कुमार व विनीता पत्नी दिलीप कुमार निवासी लौका ने बताया कई सालों से इसी कच्चे घर में रहने को विवश हैं। मगर किसी भी जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी द्वारा अभी तक प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मुहैया नहीं हो सका है।
 
इससे पहले भी ग्राम प्रधान से कई बार गुहार लगाने के बावजूद भी कोई सटीक जवाब नहीं मिला। एक तरफ गरीब असहाय लोगों के लिए राज्य सरकार व केंद्र सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत गरीब असहाय परिवारों को पक्की छत मुहैया करवा रही हैं। तो कुछ जिम्मेदार इसको अनदेखा कर रहे हैं। उधर परिवार के लोगों का कहना है, सरकार अंतिम पायदान तक खड़े व्यक्ति को आवास देती है।
 
मगर यहां अभी तक कच्चे घर में रहने को विवश हैं। उधर गांव के लोगों का कहना है, लौका गांव लोहिया समग्र के अंतर्गत आता है। फिर भी जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों की लापरवाही के चलते एक गरीब परिवार आज भी जुग्गी झोपड़ी में रहने को विवश है। क्या इस गरीब परिवार को प्रधान के द्वारा आवास मुहैया हो सकेगा।
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel