बिहार : कटावरोधी कार्य में अनियमितता को लेकर पूर्व मुखिया और पेटी कॉन्ट्रेक्टर में मारपीट

ठकराहा प्रखंड अंतर्गत मोतीपुर पंचायत के हरख टोली का हैं मामला

बिहार : कटावरोधी कार्य में अनियमितता को लेकर पूर्व मुखिया और पेटी कॉन्ट्रेक्टर में मारपीट

7 करोड़ की लागत से मोतीपुर पंचायत के हरख टोली में कटावरोधी कराया जा रहा कार्य

ब्यूरो नसीम खान 'क्या'

बगहा। बगहा के ठकराहा प्रखंड अंतर्गत मोतीपुर पंचायत के हरख टोली में बाढ़ पूर्व कटावरोधी कार्य कराया जा रहा है। जिसमें ग्रामीणों ने भारी अनियमितता बरते जाने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है की एक तरफ कार्य हो रहा है और दूसरे तरफ गंडक की धारा उसे लीलते जा रही है। ग्रामीणों से मिली शिकायत पर पर मुखिया सुरेंद्र यादव कार्यस्थल पर पहुंचे और जानकारी लेने की कोशिश की। लेकिन पेटी कांट्रेक्टर और पूर्व मुखिया में हाथापाई हो गई। इस मारपीट का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। बताया जाता है की झड़प के समय मौके पर जल संसाधन विभाग के जेई भी मौजूद थे। मुखिया के मुताबिक बोरियों में बालू की जगह मिट्टी भरवा कर डाला जा रहा था जिसका उन्होंने विरोध किया। हालांकि मौके पर मौजूद जेई का कहना है की मुखिया और उनके समर्थकों ने बालू भरी बोरियों को पलट कर उसमे मिट्टी भर दिया। अब सवाल यह उठता है की क्या मौके पर मुखिया ट्रैक्टर ट्रॉली से मिट्टी लेकर पहुंचे थे या मिट्टी विभाग द्वारा हीं वहां स्टोर किया गया है। लिहाजा विभाग का कार्य ही संदेह के घेरे में है।

बतादें की तकरीबन 7 करोड़ की लागत से मोतीपुर पंचायत के हरख टोली में कटावरोधी कार्य कराया जा रहा है,जो की 700 मीटर तक करना है। अब यह मामला तुल पकड़ने लगा है और ग्रामीणों ने जांच कर कार्रवाई की मांग की है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel