शिक्षको को बच्चो के  उज्जवल भविष्य सवारने की जिम्मेदारी सौपी 

उन्होने बताया की यदि विद्यालय साफ करने के लिये सफाईकर्मी नही आता है

शिक्षको को बच्चो के  उज्जवल भविष्य सवारने की जिम्मेदारी सौपी 

स्वतंत्र प्रभात 
 
 
 
 
 
हैदरगढ बाराबकी -बच्चे जो देश के  उज्जवल भविष्य है और अपना भविष्य सवारने के लिये स्कूल मे शिक्षा ग्रहण करने के लिये आते है वही जिन शिक्षको को बच्चो के 
 
 
उज्जवल भविष्य सवारने की जिम्मेदारी सौपी गयी है ज्ञान रूपी  शिक्षक नन्हे मुन्हे बच्चो को हाथ मे कापी किताब पकडवाकर उन्हे शिक्षा देने की बजाय उनके हाथो मे झाडू 
 
 
थमा कर विद्यालय की साफ सफाई करवाई जा रही है जो शिक्षा विभाग के लिये बहुत बड़ा सवाल खड़ा करता है ।ऐसा ही कुछ हाल विकास खण्ड त्रिवेदीगंज क्षेत्र के ग्राम पंचायत सराय पान्डेय के प्राथमिक विद्यालय शत्रुद्दीन पर
 
 
देखने को मिला यहाँ पर सुबह स्कूल खुलने के बाद जहां बच्चो को क्लास मे बैठकर पढाई करनी चाहिये वही विद्यालय मे तैनात शिक्षक हाथ मे झाडू थमाकर साफ सफाई करवाते हुए नजर आये  
 
 
 वही उधर से गुजर रहे सवाददाता
 
 की नजर जब विद्यालय मे झाडू लगा रहे नन्हे बच्चे पर पडी तब वही रुककर उन्होने यह तस्वीर अपने कैमरे मे कैद कर ली और जब शिक्षक से इसकी वजह जानने की कोशिश की तो वहाँ पर तैनात शिक्षक ने जानकारी देते हुए
 
 
 
बताया की यहाँ पर  सफाई करने के लिये सफाईकर्मी कभी नही आता है जिससे सफाई न होने की वजह से बच्चो से मजबूरन साफ सफाई करवाने के लिये बाध्य होना पडता है ।सोचने वाली बात यह है ज्ञान रूपी शिक्षक किस तरीके से बच्चो का
 
 
उज्जवल भविष्य सवार रहे है यह शिक्षा विभाग के लिये बहुत बड़ा सवाल खडा करता है ।वही इस समबन्ध मे जब खण्ड विकास अधिकारी त्रिवेदीगंज से बात की गयी तो 
 
 
 
तो इसकी जानकारी ग्राम प्रधान या ब्लाक के अधिकारी व सम्बंधित विभाग के अधिकारी को देना चाहिये अगर बच्चो से साफ सफाई करवायी जा रही है जो गलत है अगर ऐसा है तो इसकी जांच कर कानूनी कार्यवाही की जायेगी ।
 
 
Tags:  

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel